Gujarat Exclusive > राजनीति > तालाबंदी में लोगों की मदद करने वाले 10 सांसदों की लिस्ट में तीसरे पायदान पर राहुल गांधी

तालाबंदी में लोगों की मदद करने वाले 10 सांसदों की लिस्ट में तीसरे पायदान पर राहुल गांधी

0
358

कोरोना महामारी, कोरोना वैक्सीन और तालाबंदी के फैसले पर मोदी सरकार को सवालों के घेरा में खड़ा करने वाले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने तालाबंदी के दौरान जमकर लोगों की मदद की थी. Rahul Gandhi Top 10 MP

एक सर्वे के मुताबिक कोरोना की वजह से लागू की गई देशव्यापी तालाबंदी के दौरान अपने संसदीय इलाके के लोगों की मदद के लिए आगे आए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को टॉप-10 सांसदों की लिस्ट में शामिल किया गया है.

सर्वे तीसरे पायदान पर राहुल गांधी  Rahul Gandhi Top 10 MP

यह सर्वे नई दिल्‍ली के सिटिजन इंगेजमेंट प्‍लेटफॉर्म गवर्नआई सिस्‍टम ने कराया है. इस सर्वे को 1 अक्टूबर को शुरू किया था. सर्वे के दौरान 512 लोकसभा सांसदों के लिए 33.82 लाख से अधिक नॉमिनेशन मिले थे.

इनमें से पहले 25 को चुना गया. उन सभी सांसदों के संसदीय क्षेत्र से ग्राउंड इंटरव्यू और फीडबैक के आधार पर टॉप-10 सांसदों को चुना गया है. इन नेताओं के लिस्ट में राहुल गांधी तीसरे पायदान पर हैं.

टॉप 10 सांसदों की लिस्ट Rahul Ga ndhi Top 10 MP

सर्वे के अनुसार तालाबंदी के दौरान जनता की मदद करने वाले टॉप 10 सांसदों में पहले पायदान पर उज्‍जैन से बीजेपी के सांसद अनिल फिरोजिया हैं. दूसरे स्‍थान पर YSRCP के सांसद अडाला प्रभाकर रेड्डी.

जबकि तीसरे पायदान पर वायनाड से कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी हैं. चौथे पायदान पर TMC सांसद महुआ मोइत्रा, पांचवे स्थान पर बीजेपी के युवा सांसद तेजस्वी सूर्या का नाम दर्ज है, Rahul Gandhi Top 10 MP

सूची में सातवें स्थान पर सुखबीर सिंह बादल, आठवें स्थान पर बीजेपी के शंकर लालवानी, नौवें स्थान पर द्रमुक सांसद डॉ. टी सुमथी, वहीं टॉप-10 में 10 वें स्थान पर बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का नाम शामिल है.

प्रवासी मजदूरों की मौत पर राहुल गांधी का तंज Rahul Gandhi Top 10 MP

मानसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में सवाल किया गया कि सरकार को यह मालूम है कि प्रवासी मजदूरों को घर लौटते हुए मौत हुई थी. क्या राज्यवार मृतकों की संख्या का लिस्ट सरकार के पास मौजूद है?

क्या पीड़ितों को सरकार ने कोई मुआवजा या आर्थिक सहायता दी? इस सवाल के जवाब में केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्रालय ने कहा कि इसका कोई भी डेटा सरकार के पास उपलब्ध नहीं है.

इस मामले पर राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर तंज कसा था. राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में ट्वीट कर लिखा था Rahul Gandhi Top 10 MP

“मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मज़दूर मरे और कितनी नौकरियाँ गयीं. तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई?

हाँ मगर दुख है सरकार पे असर ना हुई, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे ख़बर ना हुई.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसान आंदोलन: राष्ट्रपति से मिले राहुल गांधी, कहा- कृषि कानून को वापस लेना ही होगा