Gujarat Exclusive > गुजरात > 29 अगस्त से एक बार फिर गुजरात में भारी से अतिभारी बारिश का पूर्वानुमान

29 अगस्त से एक बार फिर गुजरात में भारी से अतिभारी बारिश का पूर्वानुमान

0
2680

Rain Forecast in Gujarat: गुजरात में मानसून लगभग-लगभग अलविदा लेने वाला है. लेकिन मेघराज जाते-जाते तूफानी बल्लेबाजी कर रहे हैं. गुजरात सहित पूरे देश में जमकर बारिश हो रही है.

ऐसे में राज्य के मौसम विभाग ने 29 अगस्त से एक बार फिर से राज्य में भारी से अतिभारी बारिश का पूर्वानुमान लगाया है.

29 अगस्त से फिर से भारी बारिश का पूर्वानुमान Rain Forecast in Gujarat:

मौसम विभाग के अनुसार इन दिनों वेदर सिस्टम का असर खत्म हो रहा है. जिसकी वजह से आने वाले 28 अगस्त तक मौसम सामान्य बना रहेगा.

लेकिन 29 अगस्त को बंगाल की खाड़ी में वेलमार्क लो प्रेशर सिस्टम की वजह से एक बार फिर से गुजरात में भारी से अतिभारी बारिश हो सकती है.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक 29 से 31 अगस्त तक राज्य में फिर से भारी बारिश होने का अनुमान है.

यह भी पढ़ें: सुशांत के पिता ने रिया पर लगाया गंभीर आरोप, दे रही थी मेरे बेटे को जहर

29 अगस्त को दक्षिण गुजरात, कच्छ और सौराष्ट्र में भारी से अतिभारी बारिश होने का पूर्वानुमान है. जबकि गुजरात के अन्य जिलों में तेज बारिश से लेकर मध्यम वर्षा का अनुमान लगाया गया है.

गुजरात में बीते कुछ दिनों से होने वाली लगातार बारिश के बाद राज्य के अधिकांश बांधों में जलस्तर में होने वाली वृद्धि की वजह से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है.

जिसमें पाटण की सरस्वती नदी में 3 साल बाद नए पानी आने की जानकारी मिल रही है.

लगातार हो रही है गुजरात में बारिश

राज्य में पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण इस सीजन का 108 प्रतिशत बारिश गुजरात में दर्ज की गई है.

जिसमें कच्छ क्षेत्र में सबसे ज्यादा 219 प्रतिशत बुधवार को दर्ज की गई.

इसके अलावा सौराष्ट्र में 142 फीसदी, उत्तरी गुजरात में 95 फीसदी, दक्षिण गुजरात में 93 फीसदी और पूर्व-मध्य जोन में करीब 81 फीसदी बारिश दर्ज की गई है.

राजकोट की आजी और कडी बांध में बढ़ा जलस्तर

इस संबंध में सरकारी अधिकारियों का कहना है कि राजकोट में आजी बांध और मेहसाणा के कडी बांध में भी भारी बारिश की वजह से यह दोनो बांध में पानी जलस्तर से ज्यादा संग्रह हो गया है.

पानी ज्यादा होने की वजह बांध के कई दरवाजा खोल दिया गया है इसलिए निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को अलर्ट पर रखा गया है.

गुजरात आपातकालीन संचालन केंद्र (SEOC) के एक अधिकारी ने कहा कि अहमदाबाद, मेहसाणा, साबरकांठा और पाटन जिलों से करीब 1,900 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है.

राज्य में सोमवार तक 100 फीसदी से ज्यादा बारिश दर्ज की गई है.

भारी बारिश से गुजरात में 9 लोगों की मौत

भारी बारिश के बाद विभिन्न घटनाओं में नौ लोगों की जान चली गई है. जूनागढ़ और तापी जिलों में एक घर ढहने से दो लोगों की मौत हो गई. जबकि मेहसाणा, भावनगर, जूनागढ़, तापी, नर्मदा और मोरही जिलों में होने वाली अलग-अलग घटनाओं में डूबने से 7 अन्य की मौत हो गई है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कोरोना की चपेट में आए सूरत भाजपा विधायक हर्ष संघवी, ट्वीट कर दी जानकारी