Gujarat Exclusive > यूथ > राजस्थान बजट : छात्रों को सीएम गहलोत की सौगात, स्कूलों में शनिवार को होगा ‘नो बैग डे’

राजस्थान बजट : छात्रों को सीएम गहलोत की सौगात, स्कूलों में शनिवार को होगा ‘नो बैग डे’

0
546

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए राज्य बजट पेश किया जिसमें उन्होंने छात्रों और युवाओं का विशेष ख्याल रखा है. सीएम गहलोत ने पढ़ाई के बोझ के नीचे दबे बच्चों को इस बार के बजट में बड़ी राहत देते हुए स्कूलों में शनिवार को ‘नो बैग-डे’ की घोषणा की है. शनिवार को स्कूलों में पढ़ाई की जगह पाठ्योत्तर गतिविधियां होंगी.

मुख्यमंत्री ने अपने बजट में छात्रों और युवाओं के लिए अन्य कई योजनाओं की घोषणा की. सीएम गहलोत ने बचपन से मूक-बधिर बच्चों के इलाज के लिए नई घोषणा करते हुए कहा कि अब तक 899 बच्चों को इसके लिए सहायता दी जा चुकी है. इसके लिए अब बाल्यकाल की प्रारंभिक अवस्था में ही हियरिंग स्क्रीन की अनिवार्यता को नीति बनाकर लागू करेंगे.

 

इसके अलावा उन्होंने कहा कि 50 हजार युवाओं को स्वरोजगार के लिए तैयार किया जाएगा. 41 करोड़ 60 लाख की लागत से अल्पसंख्यक बच्चों के लिए छात्रावास (हॉस्टल) बनवाया जाएगा. गहलोत ने कहा कि हमारी सरकार की वित्तीय नीतियां एवं प्राथमिकताएं क्या हो इसलिए हमने कृषकों, पशुपालकों, महिलाओं, छात्रों, युवाओं, उद्योग एवं व्यापारिक संगठनों, सिविल सोसाइटी आदि के सुझाव और विचारों को ध्यान में रखकर एक समावेशी बजट बनाने का प्रयास किया है.

इसके अलावा सीएम गहलोत ने वित्तीय वर्ष 2020-21 के बजट में की कई अन्य अहम घोषणाएं की जिनमें ये प्रमुख हैं…

– जयपुर का बंद फ्लाइंग स्कूल फिर से शुरू होगा.

– 10 करोड़ रुपयों का प्रवासी श्रमिक कल्याण कोष का गठन होगा.

– जोधपुर में इंटरनेशन स्तर का ऑडिटोरियम बनेगा.

– मुख्यमंत्री कौशल विकास कोष योजना शुरू होगी.

– सड़क सुरक्षा के नियमों की जानकारी के लिए हर जिले में ट्रैफिक पार्क बनेंगे.

– उदयपुर की आयड नदी के सौंदर्यीकरण पर 75 करोड़ रुपए खर्च होंगे.

– जयपुर के सिविल लाइंस फाटक पर फोर लेन का ROB बनेगा.

– सीवरेज की सफाई के लिए जरूरी उपकरण खरीदे जाएंगे.

– किसी भी मजदूर को अब गटर में या सीवरेज लाइन में नहीं उतारा जाएगा. इसकी मॉनीटरिंग होगी.