Gujarat Exclusive > देश-विदेश > राजस्थान CM के भाई के ठिकानों पर ED की छापेमारी

राजस्थान CM के भाई के ठिकानों पर ED की छापेमारी

0
703

राजस्थान सियासी संकट के बीच, CM के भाई के ठिकानों पर ED की छापेमारी

राजस्थान में जारी सियासी हंगामे के बीच छापेमारी का भी दौर शुरू हो गया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जहां अपनी कुर्सी बचाने की जुगत में हैं वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबियों पर शिंकजा. कसता जा रहा है. इस बार प्रवर्तन निदेशालय ( ईडी) ने सीएम के भाई .अग्रसेन गहलोत के कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. ED की छापेमारी

मिल रही जानकारी के अनुसार 2007 से 2009 के बीच .सीएम गहलोत के भाई का नाम फर्टिलाइजर घोटाले में आता था इसी मामले को .लेकर आज ईडी की टीम अग्रसेन के कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

किसानों के पैसे को हड़प कर प्राइवेट कंपनियों को दे दिया

गहलोत के भाई का नाम सामने आने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने नवंबर 2017 में अग्रसेन पर आरोप. लगाया था कि उन्होंने 2007 और 2009 के बीच, जब केंद्र में मनमोहन सिंह की सरकार .थी और राज्य में अशोक गहलोत की सरकार थी उस दौरान .उन्होंने सब्सिडाइज़्ड फर्टिलाइज़र यानी उर्वरक का निर्यात किया था, और किसानों के पैसे को हड़प कर प्राइवेट कंपनियों को दे दिया था.

इससे पहले पिछले सोमवार सुबह इनकम टैक्स के अधिकारियों ने अशोक गहलोत के करीबी और कांग्रेस के नेता राजीव अरोड़ा और धर्मेंद्र राठौड़ के 22 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस बड़े और सियासी छापेमारी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसमें 200 से ज्यादा अधिकारी शामिल थे. जिन दो नेताओं पर टैक्स चोरी का आरोप लगाकर छापेमारी शुरू की गई है वह गहलोत और उनके पुत्र के करीबी बताए जा रहे हैं.

इनकम टैक्स के अधिकारियों के छापेमारी के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ट्वीट कर तंज कसा था- आखिर बीजेपी के वकील मैदान में आ ही गए. इनकम टैक्स विभाग ने जयपुर में रेड शुरू कर दी. ईडी कब आएगी?

पत्रकार की हत्या पर तेज हुई सियासत, राहुल ने कहा- वादा था राम राज का दे दिया गुंडाराज