Gujarat Exclusive > गुजरात > PM मोदी ने राजकोट एम्स की रखी आधारशिला, 2022 में बनकर होगा तैयार

PM मोदी ने राजकोट एम्स की रखी आधारशिला, 2022 में बनकर होगा तैयार

0
311

राजकोट: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजकोट में एक नए एम्स की आधारशिला रखी. पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इस आयोजन में शामिल हुए. Rajkot AIIMS

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि वर्ष का अंतिम दिन भारत के लाखों डॉक्टरों, स्वास्थ्य योद्धा, सफाईकर्मियों, दवा की दुकान में काम करने वाले लोगों के साथ अन्य फ्रंट लाइन कोरोना वारियर्स को याद करने का है.

मैं उन साथियों को सलाम करता हूं जिन्होंने अपना जीवन कर्तव्य पथ पर न्योछावर कर दिया.

गुजरात कोरोना की चुनौतियों से अच्छी तरह से लड़ रहा है Rajkot AIIMS

जिस तरह से गुजरात में पिछले दो दशकों में चिकित्सा बुनियादी ढांचे का विकास हुआ है, वह एक बड़ा कारण है कि गुजरात कोरोना चुनौती से अच्छी तरह से लड़ रहा है. एम्स राजकोट, गुजरात स्वास्थ्य नेटवर्क को और मजबूत करेगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि यह साल कोरोना महामारी की वजह चौतरफा निराशा थी, चिंताएं थीं, चारों ओर सवाल उठाए जा रहे थे लेकिन 2021 उपचार की उम्मीद के साथ आ रहा है.

भारत में वैक्सीन के लिए सभी आवश्यक तैयारी की जा रही है.

देश कोरोना के खिलाफ जारी जंग को जीतने के करीब

भारत ने एकजुटता के साथ प्रभावी कदम उठाए हैं, जिसके परिणाम से हम आज काफी बेहतर स्थिति में हैं. 130 करोड़ से अधिक की आबादी वाला देश, घनी आबादी, ऐसे देश में करीब 1 करोड़ लोग कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं. Rajkot AIIMS

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में 10 नए एम्स स्थापित करने पर काम किया गया है. जिनमें से कुछ अस्पतालों का निर्माण काम आज पूरा हो चुका है.

देश के 20 एम्स जैसे सुपर स्पेशलिटी अस्पतालों पर एम्स के साथ भी काम किया जा रहा है.

स्वस्थ सुविधा को बेहतर बनाने के लिए हमारी सरकार कर रही काम Rajkot AIIMS

पीएम मोदी ने कहा कि 2014 से पहले, हम अलग-अलग दिशाओं में काम कर रहे थे, स्वास्थ्य क्षेत्र में विभिन्न दृष्टिकोणों के साथ हम काम कर रहे हैं. प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल की एक अलग व्यवस्था थी.

गाँव में सुविधाएं नहीं के बराबर थीं. इसके अलावा, पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना की वजह से 30 हजार करोड़ रुपया गरीबों का बचा है. Rajkot AIIMS

आप सोच सकते हैं कि इस योजना ने गरीबों को उनके वित्तीय बोझ से कितना छुटकारा दिलाया है. अच्छे अस्पतालों में गरीबों का कई गंभीर बीमारियों का नि: शुल्क इलाज किया जाता है.

यह नया एम्स राजकोट में 201 एकड़ जमीन में बनने जा रहा है. जिसकी लागत 1195 करोड़ रुपये होगी. अनुमान लगाया जा रहा है कि इसका निर्माण काम 2022 में पूरा हो जाएगा.

AIIMS में 750 बेड का अस्पताल होगा. इस अस्पताल में इसमें 125 एमबीबीएस सीटें और 60 नर्सिंग सीटें भी होंगी. Rajkot AIIMS

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मेहसाणा दुग्ध उत्पादक संघ के पूर्व MD विपुल चौधरी को गुजरात हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत