Gujarat Exclusive > राजनीति > ‘बागी विधायक पहले BJP की आवभगत छोड़ें, फिर होगी बात’

‘बागी विधायक पहले BJP की आवभगत छोड़ें, फिर होगी बात’

0
155

राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट के बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि राजस्थान के बागी कांग्रेसी विधायकों को वापसी के लिए बातचीत से पहले बीजेपी से दोस्ती तोड़नी होगी और उसके बाद ही उनकी घर वापसी होगी. उन्होंने कहा कि बागी विधायक बीजेपी की आवभगत छोड़ें.

सुरजेवाला ने कहा,

‘पहले बागी विधायक वार्तालाप करें और इसके लिए पहली शर्त है कि बीजेपी की मेजबानी छोड़ें.’

उन्होंने कहा कि मनोहर लाल खट्टर की अगुवाई वाली हरियाणा की बीजेपी सरकार का सुरक्षा चक्र छोड़ें.

यह भी पढ़ें: भूमि पूजन से पहले भगवा चोले में दिखे कमलनाथ

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ”हरियाणा में आए दिन बच्चों की हत्याएं हो रही है, सामूहिक दुष्कर्म हो रहे हैं, गुड़गांव में लोगों को सरेराह पीटा जा रहा है. इसके लिए पुलिस उपलब्ध नहीं लेकिन इन 19 विधायकों की सुरक्षा के लिए एक हजार के करीब पुलिस कर्मी लगाए गए हैं. कांग्रेस के नाराज विधायकों को बीजेपी जो सुरक्षा दे रही है उसके क्या मायने हैं.”

सुरजेवाला ने कहा,

”बागी विधायक पहले बीजेपी की आवभगत छोड़ें.पहले बीजेपी से मित्रता तोड़ें, पहले बीजेपी का साथ छोड़ें, उसकी मेहमाननवाजी छोड़ें, पहले बीजेपी का सुरक्षा चक्र तोड़े अपने घर वापसी करें तब वार्तालाप होगा.”

मालूम हो कि कांग्रेस व उसके समर्थक विधायक यहां जैसलमेर के एक निजी होटल में रुके हुए हैं.

वहीं सचिन पायलट की अगुवाई में 19 बागी विधायकों के हरियाणा के होटल में रुके होने की खबरें हैं.

राजस्थान में राज्य विधानसभा का सत्र 14 अगस्त से शुरू होने जा रहा है.

बिहार पुलिस नहीं कर सकती दखलअंदाजी

वहीं सुशांत सिंह राजपूत मामले में महाराष्ट्र पुलिस द्वारा सहयोग नहीं किए जाने के आरोपों पर सुरजेवाला ने बात रखी.

बिहार सरकार के आरोप पर पलटवार करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि बिहार सरकार महाराष्ट्र के अधिकार क्षेत्र में दखलअंदाजी नहीं कर सकती.

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था की पूरी जिम्मेवारी महाराष्ट्र सरकार की है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें