Gujarat Exclusive > देश-विदेश > रविशंकर प्रसाद का सीएए विरोधियों पर तंज, कहा- ‘कागज नहीं दिखाएंगे’ कह रहे राम जन्मभूमि के दस्तावेज मांगने वाले

रविशंकर प्रसाद का सीएए विरोधियों पर तंज, कहा- ‘कागज नहीं दिखाएंगे’ कह रहे राम जन्मभूमि के दस्तावेज मांगने वाले

0
193

देश के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ चल रहे आंदोलन को लेकर विरोधियों पर हमला बोला. दरअसल कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में थे. नर्मदा के केवड़िया में एकता का पैगाम देने वाली विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से रविशंकर ने सीएए र एनआरसी का विरोध कर रहे लोगों पर सवाल खड़े किए.

इंडियाज फाउंडेशन की ओर से आयोजित कॉन्क्लेव में भाग लेने पहुंचे रविशंकर प्रसाद ने कहा कि इन दिनों कुछ लोग कह रहे हैं कि वे कागज नहीं दिखाएंगे. ऐसा वे लोग कह रहे, जो रामलला के जन्म स्थान का सबूत मांगते थे. उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया हजारों साल से यह जानती और मानती है कि रामलला का जन्म अयोध्या में हुआ था. केंद्रीय मंत्री ने इसे दोहरा चरित्र बताते हुए कहा कि यह पाखंड और बौद्धिक बेइमानी है.

रविशंकर ने वामदलों के साथ ही कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि अपने उदारवादी वामपंथी मित्रों से कहना चाहता हूं कि हमें हराओ और अपनी सरकार बनाओ. रविशंकर ने कहा कि आप हमें धर्मनिरपेक्षता, समावेश और मानवाधिकारों की शिक्षा नहीं दें. उन्होंने सवाल किया कि क्या आपने कभी आतंकवाद और चरमपंथी हिंसा के पीड़ितों के मानवधिकारों को लेकर बात की है? कभी नहीं. रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कांग्रेस की आलोचना की और कहा कि वे आज राजधर्म की बात करते हैं.

मालूम हो कि देश की राजधानी दिल्ली सहित सीएए को लेकर कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में करीब दो महीने से भी ज्यादा वक्त से सीएए को लागू करने के विरोध में धरना प्रदर्शन हो रहा है. इस दौरान दिल्ली के कुछ इलाकों में दंगे भी भड़क गए जिसमें कई लोगों की जान गई है. फिलहाल दिल्ली पुलिस हालात को समान्य करने में जुटी हुई है.