Gujarat Exclusive > देश-विदेश > निवेश करने के लिए पढ़ें : निफ्टी कहां और कब गिरावट से बाहर निकल सकता है ?

निवेश करने के लिए पढ़ें : निफ्टी कहां और कब गिरावट से बाहर निकल सकता है ?

0
2404

ऐसा सुनने को मिला है कि बहुत सारे गणितीय गणनाएं और सूत्र हैं जो वास्तव में शेयर व्यापारियों को बाजार के बर्ताव के बारे में अनुमान लगाने में मदद करते हैं. क्या होगा, अगर हम कहें कि ग्रहों की स्थिति की भी इसमें एक भूमिका होती है? बात हैरानी करने वाली है लेकिन सत्य है.

हमने अपने पिछले लेख में बताया था कि कैसे ज्योतिष और गणित के साथ निफ्टी शीर्ष का अनुमान लगाया गया था. ऐसे में अब हम अपनी समझ के अनुसार निफ्टी के भविष्य अपने विचार पेश कर रहे हैं. हमने अपने विशलेषण में दिखाया था कि जनवरी 2020 के दौरान निफ्टी 12400-450 ज़ोन में शीर्ष पर रहा था और यहां हम यह न भूलें कि हम भी गलत होने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं. फिर भी तर्क, ज्योतिष, गणित और चार्ट के साथ शुरू करते हैं…

बाजार की गति, ज्योतिष और डब्ल्यूडी गन

मार्केट साइकल– हमारे पिछले लेख में हमने 12400-450 रेंज में शीर्ष उम्मीद करने के लिए सटीक औचित्य के बारे में बताया था जो विशुद्ध रूप से ज्योतिष और डब्ल्यूडी गन की गणना पर आधारित था. वहीं से आगे बढ़ते हुए यह याद रखने का अच्छा समय है कि निफ्टी वास्तव में अप्रैल 1996 में अस्तित्व में आया था. निफ्टी के इतिहास की पहला बड़ा मार्केट क्रैश 2000 में हुआ था जो निफ्टी के अस्तित्व में आने के चार साल बाद का समय था. दूसरा प्रमुख क्रैश 2008 में हुआ था [12 (4 * 3) वर्षों की स्थापना से] और तीसरा प्रमुख जो हम देख रहे हैं वह 2020 में शुरू हुआ था [24 (4*6) वर्षों की स्थापना से]. उसके मुताबिक, आप अगले (4 * 9 = 36) वर्षों में अगले बड़े क्रैश की उम्मीद कर सकते हैं. यानी 2032 में चौथे बड़े क्रैश की उम्मीद कर सकते हैं.

ज्योतिष – बृहस्पति का चक्र में घूमते हुए लगभग 12 साल का चक्र है. इसलिए, 1996 में निफ्टी की स्थापना से अगर आप 12 साल जोड़ते हैं तो आप 2008 तक पहुंच जाते हैं (हैरानी हुई? क्योंकि तब एक बड़ा माक्रेट क्रैश हुआ था). अब 2008 में 12 साल जोड़ें तो आप 2020 तक पहुंचते हैं. क्या अभी एक क्रैश हो रहा है ? आप शर्त लगा सकते हैं- यह एक क्रैश है. अब अगले क्रैश का अपेक्षित वर्ष क्या है- 2020 में 12 साल जोड़ें – जवाब है 2032. आपको क्या लगता है कि प्रकृति, ज्योतिष और गणित में ये सामंजस्य पर्याप्त नहीं है ?

बाजार नीचे कब आएगा – हमारे पिछले लेख में हमने 90 साल के चक्र की व्याख्या की और बताया कि शनि ने शीर्ष समय में क्या भूमिका निभाई. शनि का चक्र में 30 वर्ष का होता है और अभी शनि मकर राशि में भ्रमण कर रहा है. कुछ गणनाएं हैं जिनमें राहु और केतु भी शामिल हैं, लेकिन उस पर यहां चर्चा की जरूरत नहीं है.

आइए हम यहां एक फैसला करते हैं – शनि, नोड्स (राहु और केतु) और बृहस्पति के पारगमन पर गणना के आधार पर अप्रैल 2022 के आसपास की उम्मीद – जुलाई 2022

डब्ल्यूडी पद्धति

निफ्टी अप्रैल 1996 में शुरू हुआ और इलियट वेब संरचना के आधार पर हम मानते हैं कि बाजार ने अपना पहला प्रमुख ‘बुल रन’ 24 वर्षों में पूरा किया है. 1 अप्रैल 1996 और 20 जनवरी 2020 के बीच 8694 कैलेंडर दिन हैं. डब्लूडी गन्न ने अपनी पुस्तकों में कहा कि मूल्य समय है और समय ही मूल्य है.

अब 12430 से 8694 घटाएं. निफ्टी के लिए 12430-8694 = 3736 स्थान. क्या दिमाग की घंटी बजी? जब यूपीए सरकार मई 2009 में जीती, तो ठीक वही से बाजार में उछाल आया था.

इसके अलावा, हमारे पिछले लेख में, हमने Gann कोण सिद्धांतों, संख्या 8 का महत्व, 45 डिग्री का कोण और समकोण त्रिभुज पर पर चर्चा की थी. गणना के आधार पर (जो इस लेख के दायरे से परे हैं) हम निफ्टी के निचले हिस्से के लिए 3110-3317 की रेंज में पहुंचे.

बाजार की संचरचना और गैप का सिद्धांत

जब भी कोई बहुत बड़ा दिन होता है, जहां कीमतों में उछाल या अंतर के कारण कीमतों में उछाल होता है या खरीददारों और विक्रेताओं द्वारा दी गई कीमतों में बेमेल हो जाता है, तो बाजार प्राकृतिक रूप से वापस लौट जाते हैं. इस मामले में सितंबर 2019 में कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का दिन है, जब निफ्टी ने एक ही दिन में 600 से अधिक अंकों की उछाल दिखाई. एक सर्किट/सीमा दिन के दौरान भी यही स्थिति लागू होती है, चाहे बाजार ऊपर हो या नीचे.

एक बार फिर याद कीजिए कि, जब मई 2009 में यूपीए सत्ता में लौटी, तो निफ्टी का सर्किट 3700 के स्तर से ऊपर था. प्राकृतिक रूप में उलट बाजार के इस तर्क के अनुसार, हम निफ्टी 3700 के लगभग मूल्य पर पहुंचे.

भारतीय बाजारों में विभिन्न समय सीमा पर 78.6% रिट्रेसमेंट स्तर के लिए एक अजीबोगरीब आदत है जो कि एक फाइबोनेसी अनुपात भी है. इसके अलावा, रिचर्ड शेबैकर की शिक्षाओं पर आधारित तकनीकी विश्लेषण में मूल नियम, बाजार समेकन के साथ पहले ब्रेकआउट बिंदु पर लौटने की प्रवृत्ति रखते हैं.

निफ्टी में 2008 में शीर्ष से 65% का क्रैश हुआ और 1929 में डॉव जोन्स इंडेक्स अपने मूल्य के 85-90% तक क्रैश हो गया. इन दोनों क्रैश और अन्य गणितीय और ग्रह संरेखण को आधार मानते हुए, समकोण त्रिभुज के सिद्धांत के आधार पर हम कम से कम शीर्ष से 70-75% के करीब क्रैश की उम्मीद करते हैं.

12430 का 75%  = 3107 निफ्टी

बाजार की संरचना और इलियट वेब सिद्धांत के आधार पर नीचे की चार्ट पर एक नज़र डालें और रिट्रेसमेंट स्तर देखें…

अंतिम निर्णय – उपरोक्त मापदंडों के आधार पर विभिन्न गणनाओं के अनुसार हम निफ्टी को अप्रैल से जुलाई 2022 के आसपास 3150-3350 निचले क्षेत्र से बाहर निकालने की उम्मीद करते हैं. यह विशुद्ध रूप से एक शैक्षिक लेख है और आप अपने वित्तीय सलाहकार से निवेश के निर्णयों के लिए सलाह ले सकते हैं. बेहतर होगा कि आप नकदी में रहें या गोल्ड में निवेश करें जो हमारी गणना के अनुसार 65000-70000 / 10 ग्राम की ओर होगा. अन्य बड़ा दांव आने वाले समय में 87-90 की सीमा तक USD INR है. सुरक्षित रहें, समझदार रहें.

संपर्क करने के लिए…!

Click here to read this news in English

આ સમાચારને ગુજરાતીમાં વાંચવા માટે અહી ક્લિક કરો

क्या शेयर बाजार की यह गिरावट पहले से तय थी ? जानिए सितारों और गणित का खेल