Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कृषि कानून के विरोध में पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल ने लौटाया पद्म विभूषण सम्मान

कृषि कानून के विरोध में पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल ने लौटाया पद्म विभूषण सम्मान

0
403

केंद्र द्वारा पास किए गए तीन विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आठवें दिन भी प्रदर्शन जारी है. किसान और सरकार के बीच चौथे दौर की वार्ता जारी है.

बैठक से पहले किसानों ने साफ कर दिया है कि केंद्र सरकार के पास बातचीत करने का यह आखरी मौका है. Returned Padma Vibhushan Award

केंद्र सरकार जहां बातचीत कर किसानों को मनाने की कोशिश कर रही है वहीं किसानों ने आंदोलन को तेज कर दिया है.

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री ने लौटाया पद्म विभूषण सम्मान Returned Padma Vibhushan Award

इस बीच एक बड़ी जानकारी सामने आ रही है पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानून के विरोध में अपना पद्म विभूषण सम्मान वापस कर दिया है.

बालद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को खत लिखकर कृषि कानून का विरोध करने वाले किसानों पर होने वाली हिंसा का निंदा करते हुए कहा कि किसानों का अपमान हो रहा है इसलिए ऐसा कोई भी सम्मान रखने का कोई फायदा नहीं. Returned Padma Vibhushan Award

यह भी पढ़ें: सरकार से चौथे दौर की बैठक के लिए किसान रवाना, बेनतीजा साबित हो चुकी है पहले की बैठक

किसानों का हो रहा अपमान तो मैं कैसे रख सकता हूं सम्मान  Returned Padma Vibhushan Award

राष्ट्रपति कोविंद को लिखे तीन पन्नों की चिठ्ठी में बादल ने लिखा मैं इतना गरीब हूं कि किसानों के लिए कुर्बाना करने का मेरे पास और कुछ नहीं है. Returned Padma Vibhushan Award

उन्होंने कहा कि आज मैं जो कुछ हूं वह किसानों की वजह से हूं. उन्होंने चिठ्ठी में लिखा कृषि कानून का विरोध करने वाले किसानों के साथ जिस तरीके का रवैया अपनाया जा रहा है वह दर्दनाक है.

इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि किसानों के समर्थन में एक और अकाली दल के पूर्व नेता सुखदेव सिंह ढींडसा ने भी पद्मभूषण सम्मान वापस कर दिया है.

किसानों को साथ मिला पूर्व खिलाड़ियों का Returned Padma Vibhushan Award

पूर्व भारतीय बास्केटबॉल खिलाड़ी और अर्जुन पुरस्कार विजेता सज्जन सिंह चीमा पंजाब के अन्य खिलाड़ियों से लगातार संपर्क कर रहे हैं.

ताकि वह भी किसानों के समर्थन में रैली कर सकें और एक साथ राष्ट्रपति से मुलाकात कर अपने पुरस्कार लौटा सकें. जानकारी सामने आ रही है कि सज्जन सिंह चीमा को कई पूर्व ओलंपिक और अन्य प्रतियोगिताओं में अवॉर्ड हासिल करने वाले खिलाड़ियों का समर्थन मिला है. Returned Padma Vibhushan Award

इस नाम में गुरमेल सिंह और सुरिंदर सिंह सोढ़ी का भी नाम शामिल है. देश के पूर्व 30 खिलाड़ी 5 दिसंबर को दिल्ली जाएंगे और अपने अवार्ड राष्ट्रपति भवन के बाहर छोड़ कर आएंगे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसानों को साथ मिला पूर्व खिलाड़ियों का, लौटाएंगे सरकार को अवॉर्ड