Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद: सूदखोरों के आंतक से परेशान, रिक्शा चालक ने की आत्महत्या की कोशिश

अहमदाबाद: सूदखोरों के आंतक से परेशान, रिक्शा चालक ने की आत्महत्या की कोशिश

0
298

अहमदाबाद: भाविक पब्लिकेशंस के मालिक सहित सूदखोरों के आंतक से परेशान होकर अहमदाबाद के एक रिक्शा चालक ने जुएं मारने वाली दवा पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की.

पुलिस ने आत्महत्या का प्रयास करने वाले व्यक्ति की डी.डी. (डाइंग डिक्लेरेशन) कार्यकारी मजिस्ट्रेट के समक्ष देने वाले बयान में आरोपियों के नामों का खुलासा किया था.

सोला पुलिस ने भाविक पब्लिकेशंस के मालिक सहित लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है. Rickshaw driver attempted suicide

सूदखोरों के आंतक से परेशान Rickshaw driver attempted suicide

मिल रही जानकारी के अनुसार, गोता के विश्वास सोसायटी के सामने चाणक्य अपार्टमेंट में रहने वाले राजेश भाई प्यारेलाल राजपूत अपने परिवार का जीवन यापन के लिए रिक्शा चलाते हैं.

राजेश की पत्नी उर्मिला भाविक प्रकाशन में काम करती है. राजेश को पैसा की जरूरत थी तो उसने भाविक प्रकाशन के मालिक धर्मेंद्र पटेल से तीन प्रतिशत ब्याज पर 5 लाख रुपया लिया था.

ब्याज के साथ इस पैसे को राजेश ने धर्मेंद्र पटेल को वापस कर दिया था. Rickshaw driver attempted suicide

राजेश ने कई लोगों से ब्याज पर लिया था पैसा  Rickshaw driver attempted suicide

लेकिन इसी साल जनवरी में एक फिर से उसने तीन प्रतिशत ब्याज पर 80 हजार रुपया लिया. इसके अलावा राजेश ने राजेंद्र चौहान से चार प्रतिशत ब्याज पर 1 लाख रुपये लिए थे.

गोता हाउसिंग ने खोड़ियार चौक में रहने वाली रेखा कुशवाहा से भी 1.20 लाख 10 प्रतिशत ब्याज पर और कमलेश बोरा से भी 15 हजार 10 प्रतिशत ब्याज पर लिया था.

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद सिविल अस्पताल की घोर लापरवाही, निगेटिव रिपोर्ट के बावजूद महिला को कोविड अस्पताल में भर्ती करने से मौत

राजेश राजपूत को यह पता नहीं था कि आने वाले दिनों में कोरोना संकटकाल आ जाएगा. कोरोना की वजह से लोगों का काम-काज बंद हो गया.

इस दौरान सूदखोरों ने पैसा वसूली के लिए उसे परेशान करने लगे. इतना ही नहीं पैसा नहीं मिलने पर उसे जान से मारने की भी धमकी दी. Rickshaw driver attempted suicide

25 नवंबर, 2020 को गोता तालाब के पास सूदखोरों के आतंक से परेशान होकर राजेश राजपूत ने जूँ की दवा खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की.

राजेश को उसका बेटा सोला सिविल अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. 28 तारीख को सोला पुलिस के सामने राजेश ने बयान देते हुए आरोपियों का नाम लिया.

सोला पुलिस ने राजेश की शिकायत के आधार पर धर्मेंद्र पटेल, राजेंद्र चौहान, रेखा महावीर कुशवाहा और कमलेश बोरा के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है. Rickshaw driver attempted suicide

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

साबरकांठा के खेड़ब्रह्मा में कोरोना का कहर, एक सप्ताह के लिए स्वैच्छिक लॉकडाउन