Gujarat Exclusive > देश-विदेश > रिंकू शर्मा हत्याकांड मजहबी या आपसी रंजिश? पांचवां आरोपी भी गिरफ्तार

रिंकू शर्मा हत्याकांड मजहबी या आपसी रंजिश? पांचवां आरोपी भी गिरफ्तार

0
511

Rinku Sharma Murder: उत्तर पश्चिमी दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में रिंकू शर्मा नामक युवक की हत्या के बाद बवाल मचा हुआ है. बवाल मौत की वजह को लेकर है. पहले खबर थी कि रिंकू की मौत आपसी रंजिश के कारण हुई है लेकिन अब सोशल मीडिया पर लोग इस हत्याकांड को अलग की तरह से देख रहे हैं. Rinku Sharma Murder

सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर लोग लिख रहे हैं कि रिंकू को इसलिए मारा गया क्योंकि वह हिंदू था और उसका संबंध बजरंग दल और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से था. Rinku Sharma Murder

यह भी पढ़ें: गुजरात निकाय चुनावों के लिए कांग्रेस की नई चाल, पार्टी राम मंदिर के नाम पर मांग रही वोट

रिंकू के परिवार का आरोप है कि उसकी हत्या इसलिए कि गई की वो इलाके में जय श्री राम के नारे लगाता था. बताया तो यहां तक जाता है कि जिस दौरान रिंकू शर्मा को चाकू मारा गया तो वह घायल होने के बावजूद जय श्रीराम के नारे लगाता रहा. Rinku Sharma Murder

उधर दिल्ली पुलिस का कहना है कि यह सांप्रदायिक हिंसा का मामला नहीं है, बल्कि आपसी रंजिश का मामला है जिसकी वजह से यह हत्या हुई है. पुलिस ने इस सिलसिले में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इलाके में तनाव को देखते हुए वहां अर्धसैनिक बल की तैनाती की गई है. Rinku Sharma Murder

क्या है पूरा मामला

मामला बाहरी दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके का है. जहां रिंकू शर्मा नाम का एक लड़का अपने परिवार के साथ रहता था. वो एक निजी अस्पताल में तकनीशियन के रूप में काम करता था. उसके पड़ोस में ही दानिश नाम का एक युवक रहता है. रिंकू और दानिश एक दूसरे को अच्छे से जानते थे. दानिश दर्जी का काम करता है. वहीं कुछ कदमों की दूरी पर इस्लाम रहता है. R inku Sharma Murder

10 फरवरी की रात रिंकू के एक दोस्त का जन्मदिन था. वहीं पार्टी रखी गई थी. जिसमें उसका पड़ोसी दानिश और इस्लाम भी थे. उस पार्टी में रिंकू शर्मा की उसके दोस्त से किसी बात पर नोकझोक हो गई. दूसरे दोस्तों ने मामले को शांत किया. जब पार्टी खत्म हुई तो रिंकू वहां से जाने लगा लेकिन एक युवक ने उसे रोक लिया. तभी रिंकू ने उसे पलट कर थप्पड़ मार दिया. Rinku Sharma Murder

नतीजा ये हुआ कि रिंकू के उस दोस्त ने अपने अन्य दोस्तों के साथ मिलकर रिंकू की चाकू मारकर हत्या कर दी. Rinku Sharma Murder

उधर रिंकू के घरवालों के मुताबिक दशहरे के दिन आरोपियों और रिंकू के बीच राम मंदिर पार्क में कहासुनी हो गई थी. इसके बाद से ही आरोपी आते जाते कमेंट करते थे और कभी न कभी देख लेने की धमकी भी दी थी. Rinku Sharma Murder

दोबारा हमले की बात से इनकार

बाहरी दिल्ली के एडीश्नल डीसीपी सुधांशु धामा ने दोबारा हमले की बात से भी इंकार किया है. पुलिस का कहना है कि यह एक आपसी रंजिश का मामला है. पुलिस ने इस मामले पर एक ट्वीट भी किया है. पुलिस ने ये ट्वीट इसलिए किया है कि कुछ लोगों ने इस मामले को राम मंदिर की समपर्ण यात्रा से जोड़ा था. हालांकि डीसीपी (क्राइम) चिन्मय बिस्वाल ने इस बात से साफ इनकार किया है.

सियासत हुई तेज

उधर 24 वर्षीय रिंकू शर्मा की हत्या को लेकर सियासत तेज हो गई है. शुक्रवार दोपहर बाद आम आदमी पार्टी की विधायक और दिल्ली की पूर्व मंत्री राखी बिड़ला रिंकू शर्मा के परिजनों से मिलने पहुंचीं. इस दौरान राखी  तकरीबन 2 घंटे तक रिंकू शर्मा के परिजनों के साथ रहीं. Rinku Sharma Murder

वहीं, इस दौरान ‘राखी बिड़लान वापस जाओ’ व ‘मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी भी हुई. Rinku Sharma Murder

इसके बाद उत्तरी पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद हंस राज हंस भी रिंकू के स्वजन से मिलने पहुंचे. उन्होंने पीड़ित परिवार को हर सम्भव मदद व पुलिस अधिकारियों से मिलकर न्याय दिलाने का भरोसा दिया. भाजपा प्रदेशाध्यक्ष आदेश गुप्ता ने भी रिंकू शर्मा के परिजनों से मुलाकात की. इसके अलावा लोनी से विधायक नंद किशोर गुर्जर भी पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचे. इससे पहले बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौट ने भी ट्वीट कर रिंकू शर्मा के लिए न्याय की मांग की है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें