Gujarat Exclusive > देश-विदेश > गौरी लंकेश हत्याकांड का आरोपी ऋषिकेश गिरफ्तार, पहचान छिपाकर पेट्रोल पंप पर कर रहा था काम

गौरी लंकेश हत्याकांड का आरोपी ऋषिकेश गिरफ्तार, पहचान छिपाकर पेट्रोल पंप पर कर रहा था काम

0
367

सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड में एसआईटी को बड़ी कामयाबी मिली है. बंगलूरू की एसआईटी ने हत्याकांड का फरार आरोपी ऋषिकेश डिवारिकर को झारखंड धनबाद से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी ऋषिकेश महाराष्ट्र के औरंगाबाद का रहने वाला है. हत्या के बाद से फरार चल रहा है ऋषिकेश अपनी पहचान छिपाकर धनबाद के उद्योगपति प्रदीप खेमका के पेट्रोल पंप में केयरटेकर के रूप में काम कर रहा था.

वाम समर्थक और हिंदुत्व विरोधी विचारों के लिए जानी जाने वाली 55 वर्षीय पत्रकार गौरी लंकेश की पांच सितंबर, 2017 को उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में अब तक शूटर परशुराम वाघमारे और हत्या के मास्टरमाइंड अमोल काले, सुजीत कुमार उर्फ प्रवीन और अमित देगवेकर समेत 18 लोग आरोपी हैं.

 

हत्याकांड की जांच कर रही विशेष जांच दल ने नवंबर 2018 में बेंगलुरू की एक अदालत में एक अतिरिक्त आरोप पत्र दाखिल किया था. आरोप पत्र में कहा गया कि सतातन संस्था के भीतर एक नेटवर्क ने गौरी लंकेश को निशाना बनाया. इसमें यह भी कहा गया कि गौरी की हत्या की साजिश पांच साल से रची जा रही थी.