Gujarat Exclusive > राजनीति > बिहार विधानसभा चुनाव: RJD ने उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान

बिहार विधानसभा चुनाव: RJD ने उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान

0
243
  • बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर आरजेडी ने उम्मीदवारों के नामों का किया ऐलान
  • महागठबंधन में सीटों के बंटवारें पर अभी तक फंसी थी पेंच
  • सीटों के शेयरिंग का फार्मुला तय होने के बाद आरजेडी ने कुछ उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान

बिहार विधानसभा चुनाव दिन प्रतिदिन दिलचस्प होता जा रहा है. पहले चरण में 16 जिलों की 71 सीटों पर चुनाव होना है. राष्ट्रीय जनता दल ने चुनाव से पहले अपने प्रत्याशियों के नामों का ऐलान करना शुरू कर दिया है.

एनडीए के बाद सबकी नजर महागठबंधन में होने वाली सीटों के बंटवारे पर टिकी हुई थी. लेकिन अब स्थिति साफ हो गई है.

महागठबंधन के सीटों के बंटवारे पर बनी सहमति

शनिवार सो महागठबंधन में सीटों के बंटवारे पर फैसला हुआ था जिसके तहत आरजेडी के खाते में 144 कांग्रेस की खाते में 70 भाकपा के हिस्से में 19 सीट जबकि माकपा को4 और भाकपा के खाते में 6 सीटों गई है.

सीटों के बंटवारे का फार्मुला सेट होने के बाद आज आरजेडी ने अपने कुछ उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है जिसके तहत इन लोगों ने नाम पर पार्टी ने मुहर लगाई है.

यह भी पढ़ें: बिहार विधानसभा चुनाव से पहले NDA को बड़ा झटका, LJP को नीतीश का नेतृत्व मंजूर नहीं

इन नामों पर लगी मुहर

जहानाबाद से सुदय यादव, चकाई से सावित्री देवी, शेखपुरा से विजय सम्राट, शाहपुर से राहुल तिवारी ( शिवानन्द तिवारी के बेटे), जगदीशपुर से रामविशुन सिंह, नोखा से अनिता देवी, रामगढ़- सुधाकर ( जगदानंद सिंह के बेटे), जमुई से विजय प्रकाश, मखदुमपुर से सूबेदार दास, बेलहर से रामदेव यादव, मधुबनी से समीर कुमार महासेठ, झाझा से राजेन्द्र यादव, ओबरा से पूर्व केंद्रीय मंत्री कांति सिंह के बेटे लड़ेंगे चुनाव, जमुई से पूर्व मंत्री विजय प्रकाश, गोह विधानसभा सीट से भीम सिंह को चुनावी मैदान में उतारने का फैसला किया गया है.

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में कुल 16 जिले की 71 सीटों पर चुनाव होगा. आठ अक्टूबर नामांकन भरने की आखिरी तारीख होगी.

जबकि 9 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी.12 अक्टूबर को नाम वापस लिया जा सकता है. बिहार में पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर को होगा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सुशांत केस में एम्स की रिपोर्ट पर संजय राउत का तंज, फॉरेंसिक डॉक्टर का शिवसेना से नहीं है संबंध