Gujarat Exclusive > गुजरात > रुपाणी सरकार ने मछुआरों को दी राहत, समुद्र में जाने की मिली छूट

रुपाणी सरकार ने मछुआरों को दी राहत, समुद्र में जाने की मिली छूट

0
877

गांधीनगर: गुजरात सरकार ने राज्य के मछुआरों को मछली पकड़ने के लिए समुद्र में जाने की छूट दी है. राज्य सरकार ने कोरोना वायरस की परिस्थिति के कारण घोषित हुए लॉकडाउन के चलते इस पर प्रतिबंध लगा दिया था. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय समिति ने अहम निर्णय लेते हुए मछुआरों को समुद्र में जाने की मंजूरी प्रदान की.

इस तरह अब इस प्रतिबंध को हटा लिया गया है. लॉकडाउन की मौजूदा परिस्थिति में राज्य के मछुआरा परिवारों को आर्थिक उपार्जन के रूप में मत्स्योद्योग की गतिविधियों से आय हासिल होने के उद्देश्य से राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है. इस निर्णय के परिणामस्वरूप राज्य में मत्स्योद्योग से जुड़े लाखों मछुआरा परिवारों को उनके पारंपरिक व्यवसाय के जरिए फिर से आय एवं रोजगार मिलने लगेगा.

मुख्यमंत्री के सचिव अश्विनी कुमार ने राज्य सरकार के इस निर्णय की जानकारी देते हुए कहा कि राज्य के मछुआरे अब अपने व्यवसाय के लिए समुद्र में जा सकेंगे. इसके लिए उन्हें टोकन जारी करने की शुरुआत भी कर दी गई है. उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार ने मछुआरों के मछली-झींगा पकड़ने तथा माछीमारी व्यवसाय और आनुषंगिक गतिविधियों-प्रोसेसिंग, पैकेजिंग, कोल्ड चेन रखरखाव और परिवहन आदि पर लगे प्रतिबंध को हटा लिया है. इस प्रतिबंध के हटने से मछुआरा परिवार पुन: उनके व्यवसाय के माध्यम से आर्थिक सहारा प्राप्त कर सकेंगे और मत्स्योद्योग गतिविधि फिर से तेज हो जाएगी.

गुजरात में कोरोना से वृद्ध की मौत, अब तक 23 लोग गंवा चुके हैं जान