Gujarat Exclusive > देश-विदेश > महाराष्ट्र-पश्चिम बंगाल में विरोधियों की सरकार, राज्यपाल कर रहे हैं परेशान: संजय राउत

महाराष्ट्र-पश्चिम बंगाल में विरोधियों की सरकार, राज्यपाल कर रहे हैं परेशान: संजय राउत

0
310
  • महाराष्ट्र के राज्यपाल और उद्धव सरकार के बीच जारी है जुबानी जंग
  • संजय राउत ने राज्यपालों की भूमिका पर खड़ा किया सवाल
  • राज्यपालों पर विरोधियों की सरकार को परेशान करने का लगाया आरोप

महाराष्ट्र में मंदिर और पूजा स्थलों के खोलने की मांग को लेकर सूबे के मुख्यमंत्री और राज्यपाल के बीच वाद-विदाद शुरू हुआ था.

यह विवाद इतना बढ़ गया था कि सेक्युलरिज़्म और हिंदुत्व तक पहुंच गई थी. जिसके बाद उद्धव ठाकरे ने कहा कि मुझे मेरे हिंदुत्व के लिए मुझे किसी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं.

यह मामला तो खत्म हो चुका है लेकिन जुबानी जंग आज भी जारी है. इस बार राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को संजय राउत ने निशाना बनाया है.

संजय राउत ने राज्यपाल की भूमिका पर खड़ा किया सवाल

न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि “आजकल पूरे देश में दो ही (जगह) राज्यपाल हैं, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र. बाकी कहां राज्यपाल है या नहीं मुझे पता नहीं”

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र: राज्यपाल ने सीएम को बताया ‘सेक्युलर’, उद्धव बोले- मुझे आपके सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं

इतना ही नहीं राउत ने कहा कि राज्यपाल, केंद्र सरकार और राष्ट्रपति का पॉलिटिक्ल एजेंट होता है. राजनैतिक एजेंट इसलिए होते हैं क्योंकि ये सभी राजनैतिक काम करते हैं.

लेकिन आजकल पूरे देश में दो ही राज्यपाल नजर आते हैं. राउत ने महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के राज्यपालों पर तंज कसते हुए कहा कि आज कल सिर्फ दो राज्यपाल है बाकी कहीं हैं मुझे पता नहीं लेकिन.

क्योंकि वहां की जो सरकार है विरोधियों की सरकार है.

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ अक्सर ममता बनर्जी सरकारी की आलोचना करते हैं.

बीते दिनों राज्यपाल ने ममता सरकार के कार्यों पर सवालिया निशान खड़ा करते हुए कहा था कि पश्चिम बंगाल में अल-कायदा जैसे आतंकी संगठनों ने आश्रय ले रखा है.

इतना ही ममता सरकार पर राजभवन की जासूसी करने का भी राज्यपाल आरोप लगा चुके हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बिहार चुनाव के लिए PM मोदी करेंगे 12 चुनावी रैलियां, 23 अक्टूबर से होगी शुरुआत