Gujarat Exclusive > देश-विदेश > किसानों की मांगें पूरी नहीं हुई तो यह सरकार दोबारा सत्ता में नहीं आएगी: सत्यपाल मलिक

किसानों की मांगें पूरी नहीं हुई तो यह सरकार दोबारा सत्ता में नहीं आएगी: सत्यपाल मलिक

0
171

नई दिल्ली: कृषि अधिनियम के खिलाफ किसानों के आंदोलन और एमएसपी की मांग के समर्थन में मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक का बड़ा बयान सामने आया है, मलिक ने कहा कि किसानों को परेशान किया जा रहा है. वह खुद किसान और सरकार के बीच मध्यस्थता करने को तैयार हैं. गौरतलब है कि किसान तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ बीते एक साल से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

इस मुद्दे पर मोदी-शाह से लड़ चुका हूं- मलिक

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा, “किसानों को परेशान किया जा रहा है. किसान लंबे वक्त से दिल्ली सीमाओं पर डंटे हुए हैं. किसान घर से दूर हैं, फसल को उगाने का समय आ गया है लेकिन वह दिल्ली में हैं, सरकार को किसानों की बात सुननी चाहिए.” सत्यपाल मलिक ने कहा कि मैं उनके साथ हूं, उनके लिए मैंने गृह मंत्री और प्रधानमंत्री से झगड़ा कर चुका हूं. मैं सभी को बताना चाहता हूं कि आप यह गलत कर रहे हैं, ऐसा मत करो.

इससे पहले भी मलिक कृषि कानूनों और अन्य मुद्दों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साध चुके हैं. सरकार का मिजाज थोड़ा आसमान छूने वाला है, उनको किसी की भी परेशानी दिखाई नहीं देती. किसानों की मांगें पूरी नहीं हुई तो यह सरकार दोबारा सत्ता में नहीं आएगी. सत्यपाल मलिक ने आगे कहा कि मैं मध्यस्थता के लिए तैयार हूं. सरकार एमएसपी की गारंटी देती है तो मैं तीनों कानूनों के मामले में किसानों को राजी करूंगा.

जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने वहां चल रही हत्याओं पर सवाल उठाए हैं. सत्यपाल मलिक ने कश्मीर में हो रही हत्याओं का भी जिक्र करते हुए कहा कि पिछले कुछ दिनों से गैर-कश्मीरियों को आतंकी निशाना बना रहे हैं. मलिक ने कहा, “जब मैं जम्मू-कश्मीर का राज्यपाल था, तो आतंकवादी श्रीनगर के 50 किलोमीटर के दायरे में घुसने की हिम्मत नहीं करते थे. लेकिन आज आंतकी अब खुलेआम लोगों को मार रहे हैं.

‘कश्मीर वापस नहीं आएंगे’ आतंकी हमले से घर वापसी कर रहे प्रवासी मजदूर