Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद में महिला पुलिसकर्मी सुनीता यादव के समर्थन में मौन प्रदर्शन

अहमदाबाद में महिला पुलिसकर्मी सुनीता यादव के समर्थन में मौन प्रदर्शन

0
4759

अहमदाबाद के मेघाणीनगर में सूरत की जांबाज़ महिला पुलिस कर्मचारी सुनीता यादव के समर्थन में मौन प्रदर्शन किया गया. गुजरात सरकार के मंत्री कुमार कानाणी के पुत्र के द्वारा किए जाने वाले अभद्र बर्ताव के खिलाफ गुजरात में व्यापक नाराजगी दिखाई दे रही है. मंत्री के पुत्र के खिलाफ होने वाले प्रदर्शन में लोगों ने हिस्सा लेकर महिला पुलिस कर्मचारी की हौसला अफजाई किया.

सूरत के वरछा इलाके में मौजूद हीरा बाजार में गुरुवार रात एक कार में बिना मास्क के पांच युवक घूम रहे थे. मौके पर तैनात सुनीता यादव ने उन्हें कर्फ्यू का उल्लंघन करने की वजह से रोका. जिसके बाद मंत्री के पुत्र और पुलिस के बीच जमकर तकरार हुआ. इस घटना के बीच मंत्री पुत्र ने अपने पिता को फोनकर धमकी भी दिया. धमकी के बाद भी मौके पर तैनात सुनिता यादव ठस से मस नहीं हुई जिसके बाद मामला और बिगड़ गया. मंत्री के खिलाफ एक्शन के मामले को लेकर अहमदाबाद के लोगों ने मौन रैली का आयोजन कर सुनिता यादव के इस पहल को लेकर हौसला अफजाई किया.

कोरोना के कारण देश में अनलॉक -2 को लागू है. रात 10 बजे के बाद कर्फ्यू लागू किया जाता है. इस दौरान बिना काम के घर से निकलने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाती है. कुछ ऐसा ही मामला सामने आया सूरत से पुलिस ने जब ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की कोशिश की तो नेता पुत्र ने पुलिस को ही धमकी देना लगा.

करीब डेढ़ घंटे तक चले इस ड्रामे का ऑडियो भी वायरल हुई. जिसमें मंत्री पुत्र प्रकाश सुनीता को 365 दिन यहीं खड़े रहने की ड्यूटी लगवा देने की धमकी दे रहा है. यह सुनने के बाद सुनीता भड़क गईं और बोलीं- पुलिस की यह वर्दी तुम्हारे बाप की गुलामी करने के लिए नहीं पहनी है. औकात हो तो करवा देना मेरा ट्रांसफर गांधीनगर. मामला सामने आने के बाद पुलिस कमिश्नर ने मामले की जांच का आदेश दे दिया है.

अमरेली में स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने की मांग को लेकर उपवास, पुलिस हिरासत में परेश धानाणी