Gujarat Exclusive > राजनीति > सवालों के घेरे में टेस्टिंग की धीमी रफ्तार, राहुल गांधी ने मोदी सरकार का किया घेराव

सवालों के घेरे में टेस्टिंग की धीमी रफ्तार, राहुल गांधी ने मोदी सरकार का किया घेराव

0
1317

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज लॉकडाउन की समय सीमा तीन मई तक के लिए बढ़ा दी है. इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने COVID-19 के मरीजों की जांच की व्यवस्था पर सवाल खड़ा किया है. उन्होंने कहा कि भारत में 10 लाख लोगों में से सिर्फ 149 का टेस्ट हो पा रहा है. साथ उन्होंने कुछ अन्य देशों का भी जिक्र किया.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि भारत ने टेस्टिंग किट खरीदने में देरी की है. उन्होंने कहा कि हम टेस्टिंग करने के मामले में लाओस, नाइजर और होंडुरास के साथ खड़े हैं, जहां दस लाख लोगों पर क्रमश: 157, 182 और 162 लोगों की जांच हो रही है. राहुल गांधी ने कहा है कि समूह स्तर पर जांच कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई का प्रमुख हथियार है. आज के समय में हम इस मामले में काफी पीछे हैं.

इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को ट्वीट कर कहा था, ‘भीषण आर्थिक मंदी ने कई भारतीय कॉरपोरेट को कमजोर कर दिया है, उन्हें अधिग्रहण के लिए आसान निशाना बना दिया है. सरकार को राष्ट्रीय संकट की इस घड़ी में विदेशी कंपनियों को किसी भारतीय कंपनी का नियंत्रण अपने हाथों में लेने की इजाजत नहीं देनी चाहिए.

कोरोना से जारी जंग में, भारत की मदद के लिए आगे आया टिक टॉक