Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भारत में अब तक कोरोना से 151 पीड़ित, दुनिया में 8 हजार के पार पहुंचा मौत का आंकड़ा

भारत में अब तक कोरोना से 151 पीड़ित, दुनिया में 8 हजार के पार पहुंचा मौत का आंकड़ा

0
269

भारत में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. रोज नए मामले आ रहे हैं जिससे स्वास्थ्य मंत्रालय की नींदें उड़ी हुई हैं. बुधवार शाम तक भारत में कुल मामलों की संख्या 151 पहुंच गई. इसमें 25 विदेशी भी शामिल हैं. इस दौरान अब तक कोरोना वायरस की वजह से देश में तीन लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. वहीं दुनिया में इस वायरस से मरने वालों की संख्या आठ हजार के पार पहुंच चुकी है.

महाराष्ट्र और केरल में सबसे ज्यादा मामले

कोरोना वायरस का आतंक महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है. अब तक महाराष्ट्र में कुल 39 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं इस मामले में केरल दूसरे नंबर है. केरल में भी अब तक 25 लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण की पुष्टि हुई है. वहीं उत्तर प्रदेश में 15 और कर्नाटक में 11 जबकि दिल्ली में नौ मामले सामने आए हैं.

उधर महाराष्‍ट्र पुलिस ने एक एहतियाती कदम उठाया है. महाराष्‍ट्र हाइवे पुलिस ने कुछ दिनों के लिए ड्रंक ड्राइविंग चेक करने के लिए ब्रेथ एनालाइजर टेस्‍ट न करने का फैसला किया है. इसमें ड्राइवर को ब्रेथ एनालाइजर में सांस छोड़ने को कहा जाता है. इस बारे में एडीजीपी (एडीजीपी), महाराष्‍ट्र हाइवे पुलिस विनय करगांवकर ने सोमवार को एक सर्कुलर जारी किया.

भारत की मजबूत तैयारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए 17 मार्च तक देशभर में 59,587 बेड की सुविधा को तैयार कर लिया गया है. इनमें से 11,934 बेड में केंद्र सरकार की सुविधा है. वहीं राज्य सरकार की व्यवस्था वाले 56,153 बेड शामिल हैं जबकि हज की सुविधा वाले 21,500 बेड हैं.

उत्तराखंड में वॉर्क फ्रॉम होम

उत्तराखंड सरकार ने अपनी कर्मचारियों के लिए 19 मार्च से 26 मार्च तक वॉर्क फ्रॉम होम के आदेश दिए हैं. निर्देश में कहा गया है कि केवल उन्हीं कर्मचारियों को दफ्तर आकर काम करने को कहा जाएगा जिनकी बहुत ज्यादा जरूरत होगी. इससे पहले गुरुग्राम में भी वॉर्क फ्रॉम होम की घोषणा की गई थी. उधर कर्नाटक कोर्ट ने आगंतुकों के लिए कोर्ट परिसर में आने पर रोक लगा दी है.

लद्दाख में निगरानी में कई गांव

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के एक पूरे क्षेत्र को ही पृथक कर दिया गया है. जिला प्रशासन के निर्देश पर करगिल सांकू क्षेत्र और आसपास के गांवों को अलग निगरानी में रखा जा रहा है. इस क्षेत्र में कोरोना का एक पॉजिटिव केस सामने आने के बाद एहतियात के तौर पर ये कदम उठाया गया है. सूत्रों के मुताबिक क्षेत्र में कोरोना के कई संदिग्धों की होने की आशंका को देखते हुए उनके सेम्पल टेस्ट के लिए भेजे गए हैं. लद्दाख में अब तक 8 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं.

आगरा की महिला के पिता पर एफआईआर

पॉजिटिव पाए गए बेंगलुरू के टेकी की 25 वर्षीय पत्नी के पिता पर मामला दर्ज कर दिया गया है, हालांकि पूरे परिवार के घर में ही एकांत में होने के कारण पुलिस ने उनके खिलाफ अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है. परिवार आगरा कंटोन्मेंट रेलवे स्टेशन के पास रेलवे कॉलोनी में अपने घर में ही एकांत में रह रहा है. हालांकि, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने संकेत दिया हैं कि 14 दिन बाद सख्त कार्रवाई होगी.

गोवा में कोरोना का पहला मामला

गोवा में बुधवार को कोरोना वायरस के संक्रमण का पहला मामला सामने आया है. स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने अपने बयान में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति नॉर्वे का नागरिक है. वह छह फरवरी को अपने देश से रवाना हुआ था और 20 फरवरी को गोवा आया. उसे खांसी की शिकायत हुई थी और उसे कोरोना वायरस को लेकर संदेह था.

दुनिया में 8000 के पार पहुंची मरने वालों की संख्या

वहीं कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है. अब तक कोरोना की चपेट में आने से 8272 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं कोरोना से संक्रमित होने के कुल मामलों की संख्या दो लाख 6852 हो चुकी है. हालांकि इसमें से करीब 82 हजार मरीज ठीक हो चुके हैं.

कोरोना वायरस: देश में महामारी अधिनियम के तहत दर्ज हुआ पहला मामला, हड़ताली कर्मचारियों पर हुई कार्रवाई