Gujarat Exclusive > राजनीति > सोनिया गांधी की केंद्र से अपील- प्रवासी मजदूरों के लिए खजाना खोले मोदी सरकार

सोनिया गांधी की केंद्र से अपील- प्रवासी मजदूरों के लिए खजाना खोले मोदी सरकार

0
1435

प्रवासी मजदूरों के मुद्दे को लेकर लगातार विपक्ष मोदी सरकार पर हमलावर रहा है. चाहे वह बसों का मामला रहा हो या फिर आर्थिक पैकेज का, कांग्रेस ने केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश की है. ऐसे में प्रवासी मजदूरों के पलायन के मसले पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक बार फिर केंद्र पर निशाना साधा है. सोनिया गांधी ने अपील की है कि मोदी सरकार मजदूरों के लिए खजाना खोले.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, ‘पिछले दो महीने कोरोना वायरस के कारण पूरा देश गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है. आजादी के बाद पहली बार दर्द का मंजर सबने देखा कि लाखों मजदूर नंगे पांव भूखे-प्यासे हजारों किलोमीटर पैदल चलकर घर जाने के लिए मजबूर हुए. उनकी पीड़ा-सिसकी को देश के हर दिल ने सुना, लेकिन शायद सरकार ने नहीं.’

उन्होंने आगे कहा, ‘करोड़ों रोजगार चले गए, लाखों धंधे बंद हो गए, किसान को फसल बेचने के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ी. यह पीड़ा पूरे देश ने झेली, लेकिन शायद सरकार को इसका अंदाजा नहीं हुआ. पहले दिन से ही हर कांग्रेसियों, अर्थशास्त्रियों और समाज के हर तबके ने कहा कि यह वक्त आगे बढ़कर घाव पर मरहम लगाने का है.’

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए सोनिया ने कहा, ‘किसानों, मजदूरों समेत हर तबके की मदद से न जाने क्यों सरकार इनकार कर रही है, इसलिए कांग्रेस के साथियों ने फैसला लिया है कि भारत की आवाज को बुलंद करने का सामाजिक अभियान चलाना है. हमारी केंद्र से अपील है कि वह खजाने का ताला खोलिए और जरूरतमंदों को राहत दीजिए.’

मालूम हो कि इससे पहले प्रवासी मजदूरों को लेकर बस चलाने के मुद्दे पर भी सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा था. सोनिया गांधी ने बस को लेकर मोदी सरकार पर राजनीति करने का आरोप लगाया था.

ब्लड प्रेशर और शुगर से ग्रसित 55 वर्षीय पुलिसकर्मी ने कोरोनो को दी मात, महकमे में खुशी