Gujarat Exclusive > यूथ > पहले पहुंचाया घर, अब नौकरी दिलाने में लगे सोनू सूद

पहले पहुंचाया घर, अब नौकरी दिलाने में लगे सोनू सूद

0
1023

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने जितनी शोहरत अपने फिल्मों की वजह से नहीं कमाई होगी, उससे ज्यादा लॉकडाउन में अपने कार्यों से कर ली. वह पिछले कुछ महीनों से लॉकडाउन के कारण मुंबई में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने का काम कर रहे हैं. आलम ये है कि बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बन गए हैं. प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के बाद अब सोनू सूद अब प्रवासियों के लिए नौकरी की भी व्यवस्था करने जा रहे हैं.

लॉकडाउन के बाद देशभर के प्रवासी मजदूरों को बसों, ट्रेनों और हवाई जहाजों से अपने-अपने घरों तक पहुंचाने का जिम्मा उठाने वाले सोनू सूद ने ‘प्रवासी रोजगार’ नामक एक पोर्टल की शुरुआत की है. इसके माध्यम से मजदूरों को उचित तरह के रोजगार दिलाने के लिए जरूरी जानकारियां मुहैया कराई जाएंदी. साथ ही उन्हें रोजगार दिलाने में मदद की जाएगी. कुछ विशेष किस्म के रोजगार के मामले में प्रवासी मजदूरों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: ‘राजस्थान सरकार पर भरोसा नहीं तो अमेरिका भेजकर टेप की करा लें जांच’

इसका मकसद गांव-गांव में लोगों के समूहों के माध्यम से ऐसे प्रवासी मजदूरों को देश के विभिन्न शहरों में सही तरह के रोजगार दिलाने में मदद की जाएगी. इस पोर्टल से देश के विभिन्न सेक्टर के साथ साझेदारी की गई है. इस पोर्टल से 500 ऐसी प्रतिष्ठित कंपनियों के नाम जुड़े होंगे, जिनमें प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे.

इन क्षेत्रों में होगी व्यवस्था

जिन क्षेत्रों के रोजगार उपलब्ध होंगे, वे हैं – कंस्ट्रक्शन, रेडीमेड कपड़े, हेल्थकेयर, इंजीनियरिंग, बीपीओ, सिक्योरिटी, ऑटोमोबाइल, ई-कॉमर्स, लॉजिस्टिक आदि. इतना ही नहीं, ‘प्रवासी रोजगार के माध्यम से अंग्रेजी बोलने से लेकर विभिन्न तरह के कौशल भी मजदूरों को सिखाये जाएंगे.

वैक्सीन बनाने का जिम्मा भी सूद को देना चाहिए

लॉकडाउन में सोनू के नेक काम के लिए आज भी हर तरफ उनकी प्रशंसा हो रही है. इसके साथ ही सोनू ट्विटर पर भी लोगों के ट्वीट पर तुरंत रिप्लाई करते हैं और उन तक मदद पहुंचाते हैं. इस बीच एक्टर के फैन ने सुझाव दिया है कि कोरोना के लिए वैक्सीन बनाने की जिम्मेदारी सोनू सूद को देनी चाहिए. इस पर सोनू अपना रिएक्शन दिया है. यूजर ने लिखा, ”अब समय आ गया है जब कोरोना की वैक्सीन बनाने का जिम्मा सोनू सूद को सौंप देना चाहिए.” इसके जवाब में सोनू सूद ने ट्विटर पर लिखा, ”इतनी बड़ी जिम्मेदारी मत दो भाई.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सेना में महिलाओं के स्थायी कमीशन को रक्षा मंत्रालय से मिली मंजूरी