Gujarat Exclusive > गुजरात > साबरमती जेल में मोबाइल और तंबाकू पैकेट के साथ पकड़ा गया SRP जवान

साबरमती जेल में मोबाइल और तंबाकू पैकेट के साथ पकड़ा गया SRP जवान

0
496
  • सेलो टेप से पीठ पर चिपका रखा था मोबाइल

  • 11 पैकेट तंबाकू के साथ हुआ गिरफ्तार

  • रानिप पुलिस कर रही है जांच

अहमदाबाद: साबरमती सेंट्रल जेल (Sabarmati Central Jail) से एक एसआरपी (SRP) जवान को मोबाइल फोन और तंबाकू के कई पैकेटों के साथ पकड़ा गया है. सिपाही को 200 नंबर खोली बैरेक (200 No. Kholi Barack) में ड्यूटी करता था.

बता दें कि सीरियल ब्लास्ट के आरोपों में पकड़े गए कई अतिसंवेदनशील आतंकियों को इसी बैरेक में रखा गया है.

खबरों के मुताबिक, यह सिपाही 5 दिनों से बैरक में ड्यूटी पर था.

एसआरपी जवान को 11 नंबर यार्ड से चेकिंग के दौरान एक मोबाइल फोन और 11 पैकेज तंबाकू के साथ गिरफ्तार किया गया.

सिपाही ने मोबाइल को अपनी पीठ पर सेलो टेप से चिपका रखा था.

यह भी पढ़ें: गुजरात में अगले 6 दिनों में भारी बारिश का पूर्वानुमान: मौसम विभाग

पहले ही चेक प्वाइंट पर पकड़ा गया

एसआरपी ग्रुप सी गोधरा का जवान तेजपाल सिंह विजय सिंह सोलंकी शुक्रवार की रात काम पर आया था.

तेजपाल सिंह पिछले 5 दिनों से 200 नंबर खोली बैरेक में ड्यूटी पर था.

जब वह जेल में अंदर जा रहा था तब उसे पहले ही चेक प्वाइंट पर गिरफ्तार कर लिया गया.

अधिकारियों का कहना है कि अगर पकड़ा गया जवान पहला चेक प्वाइंट से पार कर भी जाता तो वह दूसरे चेक प्वाइंट से आगे नहीं जा पाता. क्योंकि इस बैरक में अतिसंवेदनशील आतंकियों के रखे जाने की वजह से कड़ी चेकिंग की जाती है.

ड्यूटी पर तैनात जेल के सिपाही महेशभाई तजसिंहभाई डामोर ने तेजपालसिंह के जेल 11 नंबर यार्ड पर तलाशी ली.

इस दौरान रेडमी का एंड्रॉइड फोन मिला जिसे तेजपाल सिंह ने अपनी पीठ पर चिपका रखा था.

तेजपाल सिंह की पैंट की जेब से बुड्ढालाल तंबाकू की 11 पैकेट भी मिलीं.

रानिप पुलिस ने शुरू की जांच

घटना के बाद साबरमती जेल के जेलर सुरेंद्रसिंह फतहसिंह ने आरोपी एसआरपी जवान तेजपालसिंह के खिलाफ रानिप पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है.

रानिप पुलिस ने इस संबंध में एक मामला दर्ज किया है और 8,000 रुपये के मोबाइल फोन और तंबाकू पाउडर जब्त करके जांच शुरू कर दी है.

पूछताछ में आरोपी ने कहा कि वह कैदी को देने के लिए मोबाइल फोन लाया था और तंबाकू उसका था.

हालांकि पुलिस को यह बाद हजम नहीं हो रही.

इसी बैरेक में हैं सुरंग कांड के आरोपी

गौरतलब है कि 2008 के सीरियल ब्लास्ट के आतंकियों को साबरमती जेल की 200 नंबर खोली बैरक में रखा गया है.

ऐसे में पकड़े गए जवान को लेकर कई आशंकाएं जताई जा रही हैं.

साबरमती जेल सुरंग कांड के लिए मशहूर है. इस बैरेक में उन्हीं आतंकियों को रखा गया है जो सुरंग कांड में शामिल थे.

बनासकांठा में भी हुई ऐसी घटना

बनासकांठा में भी एक घटना सामने आई थी. एसीबी ने ट्रैप करके दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था.

एक पुलिस वाले के साथ दो लोग पकड़े गए.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें