Gujarat Exclusive > देश-विदेश > डोनाल्ड ट्रंप के भारतीय सुपरफैन से मिलिए, अमेरिकी राष्ट्रपति की रोज करता है पूजा

डोनाल्ड ट्रंप के भारतीय सुपरफैन से मिलिए, अमेरिकी राष्ट्रपति की रोज करता है पूजा

0
237

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर देश में उत्साह का माहौल है. अपनी दो दिनों की यात्रा के दौरान ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया को देखने का लागों को बेसब्री से इंतजार है. हालांकि ट्रंप का एक अनोखा प्रशंसक इन दिनों सुर्खियां बटोर रहा है. इस प्रशंसक ने ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अमेरिकी राष्ट्रपति से मिलाने की अपील की है.

तेलंगाना के कोन्नय गांव के निवासी बुसा कृष्णा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बहुत बड़े प्रशंसक हैं. बुसा ट्रंप की पूजा भी करते हैं और उनकी तस्वीर अपने साथ लिए रखते हैं. इसके अलावा बुसा ने ट्रंप की मूर्ति भी बना रखी है. वहीं अब बुसा ने केंद्र सरकार से ट्रंप से मुलाकात करवाने की इच्छा जाहिर की है.

ट्रंप से मिलने को लेकर बुसा ने कहा है, ‘मैं चाहता हूं कि भारत-अमेरिका के संबंध मजबूत रहें. हर शुक्रवार मैं ट्रंप की लंबी उम्र के लिए व्रत रखता हूं. मैं अपने पास ट्रंप की तस्वीर रखता हूं और कुछ भी काम की शुरुआत करने से पहले ट्रंप की पूजा करता हूं. मेरी इच्छा उनसे मिलने की है. मेरी सरकार से अपील है कि वो ट्रंप से मुलाकात के मेरे सपने को हकीकत बनाएं.’

बुसा का कहना है, ‘वह मेरे लिए एक भगवान की तरह है. यही कारण है कि मैंने एक प्रतिमा की स्थापना की थी. ट्रंप की मैं प्रतिदिन भगवान के रूप में पूजा करता हूं. ट्रंप की प्रतिमा के निर्माण में एक महीने और 15 दिन का वक्त लगा. मैं उनसे मिलना चाहता हूं, इसलिए मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि मेरा सपना सच हो.’

मालूम हो कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने पहले भारत दौरे पर आ रहे हैं. इस दौरान ट्रंप दिल्ली, अहमदाबाद, आगरा का दौरा करेंगे. वहीं अहमदाबाद में डोनाल्ड ट्रंप और नरेंद्र मोदी दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में संबोधन देंगे. इनके भारत दौरे को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.

बुसा के गांववाले भी उसे अब ‘ट्रंप कृष्णा’ के नाम से पुकारने लगे हैं. बुसा के एक दोस्त रमेश रेड्डी ने बताया, हालांकि उसका असली नाम बुसा कृष्णा है लेकिन गांव वाले उसे ट्रंप कृष्णा बुलाते हैं. कृष्णा के घर को भी यहां ट्रंप हाउस कहा जाता है. गांव वालों ने इस पर कभी कोई आपत्ति नहीं जताई.