Gujarat Exclusive > देश-विदेश > शाहीन बाग पर मध्यस्थता के लिए चुने गए वार्ताकारों को लिखित आदेश का इंतजार

शाहीन बाग पर मध्यस्थता के लिए चुने गए वार्ताकारों को लिखित आदेश का इंतजार

0
235

दिल्ली के शाहीन बाग में दो महीने से जारी प्रदर्शन को खत्म करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने वार्ताकार नियुक्त किए हैं जिसकी घोषणा सोमवार को की गई. सुप्रीम कोर्ट ने इस मसले को सुलझाने के लिए तीन वार्ताकार नियुक्त कर दिए हैं लेकिन इन वार्ताकारों को कोर्ट का आदेश लिखित में प्राप्त होने का इंतजार है. इन वार्ताकारों का कहना है कि लिखित आदेश के बाद ही वह प्रदर्शनकारियों से बातचीत का सिलसिला शुरू करेंगे.

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को अपनी सुनवाई के दौरान वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े, वकील साधना रामचंद्रन और पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त वजाहत हबीबुल्लाह को वार्ताकार नियुक्त किया. इन तीनों पर प्रदर्शनकारियों से बातचीत कर रास्ता खुलवाने के प्रयास करने का जिम्मा सौंपा गया है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े ने कहा कि अभी तक हमें लिखित रूप में सुप्रीमकोर्ट का आदेश प्राप्त नहीं हुआ है. आदेश सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट पर भी अपलोड नहीं हुआ है. उम्मीद की जा रही है कि मंगलवार शाम तक यह हो जाएगा. इसके बाद ही इस मामले में विचार किया जाएगा कि हम वहां कब जाएंगे. इस मामले में हमारी दिल्ली पुलिस से बातचीत हो चुकी है.

मालूम हो कि शाहीन बाग में दो महीने से ज्यादा समय से चल रहे प्रदर्शन की वजह से दिल्ली और नोएडा के लाखों लोग परेशान हैं. प्रदर्शन की वजह से दिल्ली से नोएडा जाने वाला रास्ता बंद है, जिसके कारण लोगों को लंबे रास्ते से जाना पड़ता है और समय की भी बर्बादी होती है. कुछ दिनों पहले प्रदर्शनकारी स्कूल बस के लिए रास्ता देने के लिए तैयार हो गए थे लेकिन अभी भी उस रास्ते से गुजरने वाले लोगों को खासा समस्या का  सामना करना पड़ रहा है.