Gujarat Exclusive > गुजरात > सूरत में बढ़ा कोरोना कहर, रेलवे स्टेशन-बस डिपो और हवाई अड्डे से मिले 195 संक्रमित

सूरत में बढ़ा कोरोना कहर, रेलवे स्टेशन-बस डिपो और हवाई अड्डे से मिले 195 संक्रमित

0
644
  • सूरत में बेलगाम हुआ कोरोना महामारी का कहर
  • सूरत में आने वाले प्रवासी मजदूरों की वजह से बढ़ा कोरोना
  • कोरोना पर काबू के लिए बढ़ाई गई कोरोना टेस्ट की संख्या

सूरत: अहमदाबाद सहित सूरत में कोरोना का कहर एक बार फिर से रफ्तार पकड़ लिया है. औद्योगिक शहर सूरत में कोरोना के नए मामलों में हर दिन पहले से ज्यादा वृद्धि दर्ज की जा रही है.

एक तरफ गणेश उत्सव और दूसरी ओर प्रवासी मजदूरों के लौटने से कोरोना के नए मामलों की संख्या में वृद्धि दर्ज की जा रही है.

इसीलिए स्वास्थ्य विभाग ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और हवाई अड्ड पर आने-जाने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट करने की संख्या को बढ़ा दिया है.

आज सिर्फ एक दिन सूरत में रेलवे स्टेशन, बस डिपो और हवाई अड्डे 195 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं.

सूरत में बढ़ा कोरोना का कहर

गुजरात में कोरोना का कहर एक वक्त में अन्य राज्यों के मुकाबले कम था. लेकिन धीरे-धीरे एक बार फिर से कोरोना पूरे राज्य में आतंक फैला रखा है.

औद्योगिक नगरी सूरत में एक समय कोरोना के नए मामलों की संख्या में कमी दर्ज की जा रही थी. लेकिन बीते कुछ दिनों से पूरे गुजरात में सबसे ज्यादा नए मामले सूरत से सामने आ रहे हैं.

जिसके बाद सूरत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 17854 हो गई है. जबकि इस वायरस की वजह से 637 लोगों की मौत दर्ज की गई है.

प्रवासी मजदूरों के वापसी से बढ़ा खतरा

जबकि सूरत में 15628 लोग कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं. जिसके बाद सूरत की रिकवरी रेट 87.5 हो गई है. अभी कुछ दिन पहले सूरत में कोरोना के नए मामलों में थोड़ी गिरावट दर्ज की गई थी.

लेकिन गणेश उत्सव के दौरान भारी संख्या में लोग एक जगह पर इकट्ठा हो गए थे. इतना ही नहीं अब सूरत में एक बार फिर से रोजी रोटी कमाने के लिए आने वाले प्रवासी मजदूर भी बड़ी संख्या में आ रहे हैं.

इसलिए कोरोना के नए मामलों में हर दिन वृद्धि दर्ज की जा रही है.

यह भी पढ़ें: वडोदरा: PSI राहुल परमार को ACB ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा

सूरत मनपा नगर आयुक्त बंछानिधि पानी ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि,”गणेश उत्सव के कारण, लोग बड़ी संख्या में सोसायटी और अपार्टमेंट में इकट्ठा हुए थे जिसके कारण कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है.

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि नौजवान भी अब कोरोना की चपेट में आ रहे हैं क्योंकि नौजवान तबके के लोग कोरोना को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं.

इसलिए ऐसे लोग भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं. युवाओं की वजह से उनके घरों में रहने वाले बुजुर्ग लोग भी कोरोना की चपेट में आ जाते हैं.

उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि सूरत में कोरोना के बढ़ते आतंक पर काबू पाने के लिए हम हरसंभव कोशिश कर रहे है. अन्य राज्य से आने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट करने के बाद ही शहर में एंट्री दी जा रही है.

आज सेंट्रल बस डिपो पर आने वाले 4709 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया था जिसमें से 59 यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया है.

सायण चेक पोस्ट पर 11402 लोगों का कोरोना परीक्षण किया गया था जिनमें से 180 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

जबकि रेलवे स्टेशन पर 9967 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया था जिसमें से 106 यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कोरोना को लेकर AMC का विवादित ट्वीट, मीडिया जगत नाराज