Gujarat Exclusive > गुजरात > सूरत: 2 करोड़ के MD ड्रग्स और 56 लाख के गांजा के 6 साथ लोग गिरफ्तार

सूरत: 2 करोड़ के MD ड्रग्स और 56 लाख के गांजा के 6 साथ लोग गिरफ्तार

0
458
  • सूरत में एमडी ड्रग्स के जत्थे के साथ तीन लोगों को किया गया गिरफ्तार
  • गांजे का धंधा करने वाले 3 अन्य आरोपी भी पुलिस के हत्थे चढ़े
  • सूरत पुलिस आयुक्त का चौंकाने वाला खुलासा
  • सूरत के हर कोने में ड्रग्स बेचे जा रहा है

सूरत: गुजरात में बढ़ते ड्रग्स की वजह से अब गुजरात को भी उड़ता गुजरात कहा जा रहा है. युवाओं में ड्रग्स और नशीले पदार्थों के उपयोग में वृद्धि के कारण गुजरात ड्रग्स डीलरों का महत्वपूर्ण राज्य बन गया है.

ऐसे में सूरत क्राइम ब्रांच को मिली खुफिया जानकारी के आधार पर शहर के अलग-अलग इलाकों से तीन युवकों को सवा कोरड़ के एमडी ड्रग्स के साथ गिरफ्तार किया है.

जबकि 56 लाख गांजा के साथ क्राइम ब्रांच ने तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. एक सवाल के जवाब में सूरत पुलिस आयुक्त अजय तोमर ने कहा “सूरत के हर कोने में ड्रग्स बेचे जा रहा है.”

क्राइम ब्रांच के अधिकारियों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, सलमान उर्फ ​​अमन हनीफ झवेरी को डुम्मस इलाके के कुवाड़ा टी सर्कल के पास से गुप्त जानकारी के आधार पर गिरफ्तार किया गया था.

उसके पास से 1011.82 ग्राम मेफेड्रोन ड्रग्स बरामद की गईं. इसका अनुमानित बाजार मूल्य रुपया 1,01,18,200 जब्त किए गए. जबकि आदिल नाम का युवक वांटेड है.

जबकि एक अन्य आरोपी विनय पटेल को वराछा में भवानी सर्किल के पास पटेलनगर से गिरफ्तार किया गया है. उसके पास से भी 17.5 ग्राम मेफेड्रोन ड्रग्स बरामद की गई.

इसका बाजार मूल्य रुपया 1,75,000 है. मुंबई के रहने वाले रोहन को इस मामले में वांटेड घोषित किया गया है.

क्राइम ब्रांच ने एक अन्य मामले में शैलेश अल्लालिया सियोना प्लाजा शॉपिंग सेंटर, पुणा सीमाडा रोड सरथाणा में छापेमारी कर 304.98 ग्राम एमडी ड्रग्स बरामद किया है.

इस मामले में सलमान झवेरी को वांटेड घोषित किया गया है.

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद में काम करने वाले मजदूर की बेटी के अकाउंट में आए 10 करोड़ रुपये

क्राइम ब्रांच ने गांजा सप्लाई करने वाले तीन लोगों को भी गिरफ्तार किया है. क्राइम ब्रांच के पीएसआई सी आर देसाई को गुप्त सूचना मिली थी कि पूणागाम सारोली रोड, नेचरवेली होम्स के पास से गाड़ी को रोककर जांच किया जिसमें से 54 लाख के 564.510 किलोग्राम गांज के साथ मिथुन रविन्द्र स्वांई, चंद्रमणि गौड़ा और बसंत युधिष्ठिर को गिरफ्तार किया.

सूरत पुलिस आयुक्त अजय तोमर ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा, “एक करोड़ के ड्रग्स के साथ पकड़े गए सलमान और संकेत लंबे समय से इस व्यवसाय में शामिल हैं.

आदिल नाम का एक व्यक्ति भी इस व्यवसाय में शामिल है जिसे फिलहाल वांटेड घोषित किया गया है. जिस आरोपी के पास से ड्रग्स का जत्था मिला है उसका मुंबई से कनेक्शन है.

मुंबई में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ड्रग रैकेट का पर्दाफाश कर रहा है. हम भी एनसीबी का संपर्क कर आरोपियों की जानकारी देंगे.”

एक सवाल के जवाब में अजय तोमर ने कहा कि सूरत के हर कोने में ड्रग्स बेचा जा रहे है. इन ड्रग्स का इस्तेमाल गरीब से लेकर अमीर परिवार के नौजवान कर रहे हैं.

सूरत में ड्रग के कारोबार में शामिल किसी को भी पुलिस नहीं छोड़ेगी. आयुक्त ने सूरत के लोगों से अपील करते हुए कहा कि अगर आपको किसी ऐसे आदमी की जानकारी हो तो पुलिस को संपर्क कर इसकी जानकारी दें.

ताकि हम सूरत को नशा मुक्त बना सकें.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात विधानसभा सत्र का आज तीसरा दिन, यह खास विधेयक होंगे पारित