Gujarat Exclusive > गुजरात > सूरत: थाई युवती की मौत का रहस्य, मामले की जांच करेगी SIT

सूरत: थाई युवती की मौत का रहस्य, मामले की जांच करेगी SIT

0
592
  • सूरत के मगदल्ला इलाके में थाई युवती का मिला था शव
  • अनसुलझी पहली को सुलझाने के लिए एसआईटी का गठन
  • तीन दिन बाद भी मौत के रहस्य से नहीं हटा पर्दा

सूरत: शहर के मगदल्ला इलाके में रहने वाली थाईलैंड की युवती स्पा में काम करती थी. उसकी जली हुई लाश बीते दिनों उसके घर में मिली थी.

तीन दिन बाद भी युवती की मौत के रहस्य से पर्दा नहीं हटा है. इसलिए अब मामले की जांच के लिए एसआईटी की रचना की गई है.

थाई लड़की का जला हुआ शरीर उसके घर से मिला था और उसके घर का दरवाजा बाहर से बंद था.

बंद कमरे में आग लगने से थाई युवती की हुई थी मौत

सूरत के मगदल्ला गांव में भैया स्ट्रीट में नगीन पटेल के घर में थाई युवती किराए के मकान में रहती थी और स्पा में काम करती थी. थाई युवति वनिडा उर्फ ​​मिम्मी बुसोर्न पिछले रविवार को अपने कमरे में जली हुई मिली थी.

कमरे में आग और धुंआ दिखाई देते ही स्थानीय लोग घटनास्थल पर पहुंचे थे.

लेकिन कमरे का मुख्य दरवाजा बंद था जिसके बाद उस युवती का शव दरवाजा तोड़कर निकाला गया.

मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन

उमरा पुलिस ने इस मामले को आकस्मिक मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. फिलहाल तीन से चार लोगों से पूछताछ की जा रही है.

थाई युवती की हत्या हुई है या उसने आत्महत्या की है यह अभी भी एक राज ही बना हुआ है. क्योंकि मकान में आग लगने के दौरान घर का दरवाजा बाहर से बंद था.

इसलिए पुलिस भी इस रहस्मय मामले की गहराई से जांच कर रही है. फोरेंसिक विशेषज्ञों का मानना ​​है कि थाई युवती की मौत सामान्य नहीं है.

यह भी पढ़ें: सूरत: बंद घर में मिली थाईलैंड युवती की जली हुई लाश, हत्या की शंका

कोई भी जीवित व्यक्ति कभी भी जलने के दर्द को सहन नहीं कर सकता है. जब भी कोई व्यक्ति जलता है वह चिल्लाता है और खुद को बचाने की कोशिश करता है.

वनिडा का जला हुआ शरीर कमरे के एक तरफ पाया गया था. घर में रखा गया सामान भी अस्त-वयस्त नहीं हुआ था.

इसलिए उम्मीद जताई जा रहा है कि आत्महत्या के पीछे किसी ना किसी का हाथ है.

घटना के तीन दिन बाद भी स्थानीय पुलिस अभी तक वनिडा की मौत के रहस्य से पर्दा नहीं उठा पाई है. ऐसे में पुलिस आयुक्त ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है.

इस विशेष जांच दल में उमरा पुलिस स्टेशन के पीआई और क्राइम ब्रांच के पीएसआई को शामिल किया गया.

डीसीपी विधी चौधरी पूरे मामले की व्यक्तिगत निगरानी करेंगी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात सीएमओ का एक और कर्मचारी कोरोना से संक्रमित