Gujarat Exclusive > यूथ > सुरेश रैना ने IPL से बाहर होने की बताई वजह, पंजाब सरकार से मदद की अपील

सुरेश रैना ने IPL से बाहर होने की बताई वजह, पंजाब सरकार से मदद की अपील

0
401
  • आईपीएल का साथ छोड़ने वाले रैना ने अफवाहों पर लगाया विराम
  • भारत लौटने के पीछे की बताई वजह
  • ट्वीट कर पंजाब सरकार से मदद की किया अपील 

इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सत्र शुरू होने से पहले ही चेन्नई सुपर किंग्स के धाकड़ बल्लेबाज सुरेश रैना टीम का साथ छोड़कर भारत आ गए थे.

इसकी जानकारी इस बात की जानकारी चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से साझा की है. रैना के फैन्स उनकी तरफ से ट्वीट का इंतजार कर रहे हैं.

इस बीच रैना ने अपने वापसी की वजह आज ट्वीट कर बताते हुए पंजाब पुलिस से मदद की अपील की है.

ट्वीट कर दी जानकारी

मंगलवार को सुरेश रैना ने एक ट्वीट कर परिवार के साथ होने वाले हादसे का जिक्र किया. उन्होंने लिखा “जो मेरे परिवार के साथ हुआ है वह बेहद शर्मनाक है. मेरे फूफा को मौत के घाट उतार दिया गया.

मेरी बुआ और मेरे चचेरे भाइयों को भी गंभीर चोटें आईं. दुर्भाग्य से जिंदगी से संघर्ष करते हुए बीती रात मेरे भाई ने भी दुनिया को अलविदा कह दिया.

जबकि मेरी बुआ की हालत अभी भी क्रिटिकल बनी हुई है उनको लाइफ सपोर्ट पर रखा गया है.”

यह भी पढ़ें: आईपीएल 2020 में नहीं खेलेंगे सुरेश रैना, व्यक्तिगत कारणों से यूएई से घर लौटे

 

रैना ने पंजाब सरकार से मदद की किया अपील

इस मौके पर सुरैश रैना ने एक अन्य ट्वीट कर कहा कि “अभी तक हमें पता नहीं चला कि उस रात क्या हुआ था. मैं पंजाब पुलिस से अपील करता हूं कि वो इस मामले को देखें.

हम यह जानने का हक तो रखते ही हैं कि उनके साथ यह किसने किया. उन अपराधियों को इससे भी ज्यादा अपराध करने के लिए नहीं छोड़ा जाना चाहिए.

अपने ट्वीट में रैना ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह मांग किया है कि मामले में शामिल अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ा जाए और उनके खिलाफ सख्स से सख्त कार्रवाई की जाए.”

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले पंजाब के पठानकोट के माधोपुर क्षेत्र के थरियाल गांव में अज्ञात हमलावरों ने सुरेश रैना की बुआ के घर पर हमला बोल दिया था. इस हमले में उनके फूफा की घटनास्थल पर मौत हो गई थी.

जबकि उनकी बुआ और उनके दो बेटे इस हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

इलाज के दौरान घायल हुए एक की मौत हो गई जबकि रैना के बुआ और उनके एक अन्य बेटे की हालत नाजुक बनी हुई है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

JEEपरीक्षा का आगाज, कोरोना की वजह से छात्रों को इन नियमों का करना होगा पालन