Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्‍ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन को सरेंडर से पहले दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिल्‍ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन को सरेंडर से पहले दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
815

दिल्ली में हिंसा भड़काने के आरोपी आम आदमी पार्टी से निष्कासित पार्षद ताहिर हुसैन ने गुरुवार को रोज एवेन्यू कोर्ट में सरेंडर की कोशिश की लेकिन अदालत ने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि यह हमारे अधिकार क्षेत्र का मामला नहीं है. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने उसे कोर्ट की पार्किंग से गिरफ्तार कर लिया. ताहिर ने कड़कड़डूमा कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए भी अर्जी दाखिल की थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया. काफी दिनों से दिल्‍ली पुलिस को उसकी तलाश थी. उसे न पकड़ पाने को लेकर दिल्‍ली पुलिस पर सवाल भी उठ रहे थे.

ताहिर हुसैन ने सरेंडर के लिए जाने से पहले मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, ‘पुलिस ने मुझे घर से रेस्क्यू किया था. मैंने डंडे से उपद्रवियों को भगाने की कोशिश की. मैं दुष्प्रचार से डर गया था. सोशल मीडिया पर मेरे खिलाफ दु्ष्प्रचार हुआ. मैंने बार-बार पुलिस को कॉल किया. मैं लगातार दिल्ली में ही छिपा रहा, मुझ पर गलत आरोप लगाए गए. अगर मेरा नारको टेस्‍ट किया गया तो भी मैं उसके लिए तैयार हूं. ताहिर हुसैन ने आरोप लगाया कि बीजेपी मुझे साजिश के तहत फंसा रही है.

आरोपों पर ताहिर हुसैन ने कहा कि 24 फरवरी को मैं पुलिस के आला अधिकारियों की मौजूदगी में अपने परिवार से साथ वहां से निकल गया था. उसके बाद मेरा उस बिल्डिंग से कोई मतलब नहीं है. 25 फरवरी की शाम को यह वारदात हुई है. तमाम तरह के आरोप मुझ पर लगाए जा रहे हैं. मैंने 24 को पुलिस को फोन किया था. पुलिस ने मुझे निकाला था. पुलिस ने मेरे घर की तलाशी ली थी. मैंने उस समय ही कहा था कि मेरे मकान का कोई भी गलत इस्तेमाल कर सकता है.

आम आदमी पार्टी से निकाले जाने को लेकर ताहिर हुसैन ने कहा, यह पार्टी का फैसला है, मैं उस पर कुछ नहीं कह सकता. ताहिर हुसैन ने कहा, मैं खुद दंगे का भुक्‍तभोगी हूं. मेरा परिवार तबाह हो गया है. मेरा किसी से संपर्क नहीं हो पा रहा है. घर में दंगे का सामान बरामद होने को लेकर ताहिर हुसैन ने कहा, यह सब कपिल मिश्रा का किया धरा है. उसी ने यह सब करवाया है. ताहिर हुसैन ने यह भी कहा कि कानून और अदालत पर मुझे पूरा भरोसा है और पूरी उम्‍मीद है कि मैं बेदाग साबित हो जाऊंगा. उसने यह भी कहा कि वह हिन्‍दू इलाके में रहता है और दंगे में हिन्‍दुओं की मदद भी की थी.

दिल्ली हिंसा के विरोध में मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेगी तृणमूल कांग्रेस, चलाएगी ‘भाजपा छी छी’ अभियान