Gujarat Exclusive > राजनीति > बंगाल चुनाव से पहले टीएमसी को झटका, ममता सरकार के मंत्री शुभेंदु अधिकारी ने दिया इस्तीफा

बंगाल चुनाव से पहले टीएमसी को झटका, ममता सरकार के मंत्री शुभेंदु अधिकारी ने दिया इस्तीफा

0
207

बंगाल में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) को झटका लग है. ममता सरकार के वरिष्ठ मंत्री सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) पश्चिम बंगाल की टीएमसी सरकार में परिवहन मंत्री के पद पर बने हुए थे. हाल ही में शुभेंदु अधिकारी ने हुगली नदी आयुक्त पद से इस्तीफा दिया था.

अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आज सुबह त्याग पत्र सौंपा दिया और उसकी एक कॉपी राज्यपाल जगदीप धनखड़ को भी भेजी. बताया जा रहा है कि शुभेंदु अधिकारी सीएम ममता बनर्जी से नाराज चल रहे थे. इससे पहले कूचबिहार के टीएमसी विधायक मिहिर गोस्वामी ने भी इस्तीफा दे दिया था.

यह भी पढ़ें: सिडनी वनडे में ऑस्ट्रेलिया के हाथों भारत की हार, फिंच और स्मिथ की शतकीय दहाड़

पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और उनके मंत्री सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) के बीच सोमवार को हुई बातचीत बेनतीजा रही थी, इस बैठक के बाद भी अधिकारी ने पार्टी से दूरी बनाए हुए थी और राज्य मंत्रिमंडल की बैठकों में भाग नहीं ले रहे थे.

नंदीग्राम आंदोलन के सूत्रधार

नंदीग्राम आंदोलन के सूत्रधार शुभेंदु (Suvendu Adhikari) राज्य की 65 सीटों पर असर रखते है. ऐसे में उनके मंत्री पद से इस्तीफा देना टीएमसी के लिए काफी मुश्किलें पैदा कर सकता है. बता दें कि शुभेंदु अधिकारी 2007 में पूर्वी मिदनापुर से लेकर नंदीग्राम में एक इंडोनेशियाई रासायनिक कंपनी के खिलाफ भूमि अधिग्रहण के खिलाफ आंदोलन के अगुआ थे.

तृणमूल के अंदर असंतोष

मालूम हो कि नंदीग्राम के विधायक ने पिछले दो से तीन महीनों से तृणमूल के भीतर अपने असंतोष का कोई भेद नहीं बनाया है. उन्होंने पार्टी और कैबिनेट की बैठकों में जाना छोड़ दिया था. यहां तक की उनकी कई रैलियों में, मुख्यमंत्री के,  तृणमूल के  झंडे, बैनर या तस्वीर नहीं दिखे. उन्होंने सार्वजनिक रूप से इसके बारे में कभी भी बात नहीं की है, लेकिन पार्टी में ममता बनर्जी के भतीजे और लोकसभा सांसद अभिषेक बनर्जी को दी गई प्रमुखता से दुखी हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें