Gujarat Exclusive > गुजरात > स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: स्वच्छ शहरों में इंदौर का दबदबा कायम, सूरत को मिला दूसरा स्थान

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: स्वच्छ शहरों में इंदौर का दबदबा कायम, सूरत को मिला दूसरा स्थान

0
902

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के परिणामों की घोषणा की.

मध्य प्रदेश का इंदौर शहर लगातार चौथी बार देश का सबसे स्वच्छ शहर के पहले पायदान पर बरकरार रहा.

वहीं गुजरात की डायमंड सिटी सूरत को दूसरा स्थान और महाराष्ट्र के नवी मुंबई को सबसे स्वत्छ शहर के मामले में तीसरा स्थान प्राप्त हुआ.

पीएम मोदी ने की परिणामों की घोषणा

‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2020’ के परिणामों की घोषणा करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के कुछ सफाईकर्मी और स्वच्छता को लेकर काम करने वाले लोगों से बातचीत किया.

परिणामों की घोषणा के बाद साफ-सफाई को लेकर शानदार प्रदर्शन करने वाले शहरों को पुरस्कृत भी किया गया.

सबसे स्वच्छ शहरों में इंदौर का दबदबा कायम

इंदौर स्वच्छ शहरों में पहला पायदान हासिल करने के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इंदौर के लोगों का शुक्रिया अदा करते हुए ट्वीट कर लिखा- “इंदौर ने बढ़ाया देश व प्रदेश का मान. चौथी बार मिला सबसे स्वच्छ शहर का सम्मान.

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में मध्यप्रदेश के इंदौर को चौथी बार देश के सबसे स्वच्छ शहर का खिताब मिला. इंदौर ने देश के 4242 शहरों को पीछे छोड़कर इतिहास रचा है.”

एक अन्य ट्वीट में शिवराज सिंह चौहान ने लिखा- “आज मध्यप्रदेश के लिए गर्व और प्रसन्नता का क्षण है. #SwachhSurvekshan2020 में देश के सबसे स्वच्छ शहर में प्रथम स्थान के सम्मान के लिए इंदौरवासियों, अधिकारियों एवं स्वच्छता योद्धाओं को बधाई. इस प्रोत्साहन और सम्मान के लिए यशस्वी प्रधानमंत्री श्री @narendramodi जी का हृदय से आभार!”

केन्द्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय की ओर से आयोजित ‘स्वच्छ महोत्सव’ नाम के इस कार्यक्रम में कुल 129 शहरों को पुरस्कार प्रदान किया गया.

स्वच्छ सर्वेक्षण के पहले संस्करण में सबसे स्वच्छ शहर का खिताब मैसुरू ने हासिल किया था.

उसके बाद से लगातार चार बार इंदौर ने सबसे स्वच्छ शहर का खिबात हासिल कर एक नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सूरत में महंगा पड़ा जन्मदिन का जश्न, पुलिस ने 7 को किया गिरफ्तार