Gujarat Exclusive > देश-विदेश > ताइवान ने कहा- हम विवाद को भड़काएंगे नहीं, लेकिन अपनी अखंडता की रक्षा करेंगे

ताइवान ने कहा- हम विवाद को भड़काएंगे नहीं, लेकिन अपनी अखंडता की रक्षा करेंगे

0
94

अमेरिकी प्रतिनिधि नैंसी पेलोसी के ताइवान दौरे के बाद चीन ने ताइवान के पास बैलिस्टिक मिसाइल दागी है. इतना ही नहीं चीनी सेना की युद्धक विमानों और जहाजों ने उड़ान भरना शुरू कर दिया है, इस बीच ताइवान की राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने कहा कि वह विवाद को भड़काने नहीं बल्कि अपने देश की राष्ट्रीय सुरक्षा और अखंडता की रक्षा करेंगी.

त्साई ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से सैन्य अभियानों को रोकने का आग्रह किया है. चीन की धमकियों के बीच पेलोसी ने ताइवान का दौरा किया था. चीन ताइवान को अपने क्षेत्र का हिस्सा मानता है. चीन ताइवान के तट से महज 20 किमी दूर अपना सैन्य अभ्यास कर रहा है.

चीनी सेना ने कहा कि उसने स्थानीय समयानुसार दोपहर के करीब ताइवान के पास पानी में मिसाइल हमला किया. चीन ने 11 बैलिस्टिक मिसाइलें भी दागी थीं.

गौरतलब है कि अमेरिकी सीनेट की स्पीकर नैंसी पेलोसी की यात्रा के बाद चीन और ताइवान के बीच तनाव का माहौल है. ताइवान को डराने के लिए कई घातक चीनी युद्धपोत, लड़ाकू जेट, बमवर्षक मिसाइल तैयार हैं. चीनी सेना आज से 7 तारीख तक ताइवान के आसपास बड़े पैमाने पर अभ्यास करने जा रही है. चीन ने इलाके से गुजरने वाले सभी यात्री विमानों को रोक दिया है. इतना ही नहीं, चीनी नौसेना मुख्य भूमि ताइवान से सिर्फ 9 समुद्री मील की दूरी पर अभ्यास करने जा रही है. इससे ताइवान के मुख्य बंदरगाहों को खतरा है. चीन के इस कदम से दुनिया स्तब्ध है और उस पर एक और यूक्रेन संकट का खतरा मंडरा रहा है.

पुलवामा में आतंकियों ने बिहार के मजदूरों पर फेंका ग्रेनेड, एक की मौत, दो घायल