Gujarat Exclusive > राजनीति > लालू यादव अगर BJP से हाथ मिला लेते तो, चारा घोटाला हो जाता भाईचारा घोटाला: तेजस्वी यादव

लालू यादव अगर BJP से हाथ मिला लेते तो, चारा घोटाला हो जाता भाईचारा घोटाला: तेजस्वी यादव

0
386

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव चारा घोटाला में जेल की सजा काट रहे हैं. किडनी की बीमारी की वजह से उनकी तबीयत खराब बताई जा रही है. Tejashwi Yadav

इस बीच बिहार में आरजेडी कार्यकर्ता और लालू के समर्थक उनके स्वास्थ्य के लिए पूजा-पाठ कर भगवान से दुआएं मांग रहे हैं. लालू के लाल तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर भाजपा पर जमकर हमला बोला है.

तेजस्वी ने भाजपा कसा तंज Tejashwi Yadav

बिहार विधानसभा के प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा “अगर लालू जी BJP से हाथ मिला लेते तो वो आज हिंदुस्तान के राजा हरीशचंद्र होते.

तथाकथित चारा घोटाला दो मिनट में भाईचारा घोटाला हो जाता अगर लालू जी का DNA बदल जाता.”

एक अन्य ट्वीट में नीतीश कुमार पर बोला हमला Tejashwi Yadav

इतना ही नहीं एक अन्य ट्वीट में उन्होंने सुबे के मुखिया सीएम नीतीश से अपील किया कि वह भले ही विपक्ष के सवालों का जवाब ना देते हों. लेकिन कम से कम वे अपने सहयोगी दल के नेताओं के सवालों का तो जवाब दें.

तेजस्वी ने ट्वीट में लिखा “मुख्यमंत्री जी, विपक्ष के तर्क व तथ्यपूर्ण सवालों का कभी भी उत्तर नहीं देते क्योंकि उनके पास जवाब ही नहीं होता. Tejashwi Yadav

अगर विपक्ष का जवाब देने में किसी प्रकार की बची-खुची प्रतिष्ठा का क्षरण होता है तो अपने सबसे बड़े सहयोगी और उनके मंत्रियों की शंकाओं का ही लोकहित में जवाब दे दिजीए.

कांटे की टक्कर के बाद एनडीए को मिली कामयाबी Tejashwi Yadav

बीते दिनों बिहार विधानसभा का चुनाव तीन चरणों में संपन्न हुआ था. महागबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव के साथ कड़े मुकाबले के बाद आखिरकार नीतीश कुमार की नैया पार हो ही गई थी.

243 में से 125 सीटों पर जीत हासिल कर बिहार में एक बार फिर से एनडीए की सरकार बनी थी. बिहार में सत्ता विरोधी लहर और महागठबंधन से कांटे की टक्कर के बाद नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले एनडीए ने बिहार में बहुमत का जादुई आंकड़ा(122) को पार कर लिया है. Tejashwi Yadav

जबकि तेजस्वी यादव की अगुवाई में चुनाव लड़ने वाली राजद और महागठबंधन ने 110 सीटों पर कामयाबी हासिल की थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसान आंदोलन पर SC में कल फिर होगी सुनवाई, केंद्र- पंजाब और हरियाणा सरकार को जारी किया नोटिस