Gujarat Exclusive > देश-विदेश > महाराष्ट्र के ठाणे में निजी अस्पताल में लगी आग, झुलसने से 4 मरीजों की मौत

महाराष्ट्र के ठाणे में निजी अस्पताल में लगी आग, झुलसने से 4 मरीजों की मौत

0
628

देश में कोरोना का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. कोरोना की दूसरी लहर ने भारत से स्वास्थ्य व्यवस्था के बड़े-बड़े दावे की पोल खोलकर रख दी है.

अस्पतालों की लापरवाही से कोरोना संक्रमित मरीजों की जान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. Thane Private Hospital Fire

इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि महाराष्ट्र के ठाणे के मुंब्रा इलाके में मौजूद एक निजी अस्पताल में भीषण आग लग गई है. इस घटना में झुलसने की वजह से 4 मरीजों की मौत हो चुकी है.

झुलसने से 4 मरीजों की मौत

मिल रही जानकारी के अनुसार निजी अस्पताल के आईसीयू में देर रात चार बजे के करीब अचानक आग लग गई थी. हादसे के दौरान 8 मरीजों का आईसीयू में इलाज चल रहा था जिसमें से 4 की मौत हो गई.

जबकि 4 अन्य को बचाकर दूसरी अस्पताल में इलाज के लिए शिफ्ट किया गया है. मामले की जानकारी मिलने फायर ब्रिगेड की टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है.

लेकिन आग किस वजह से लगी इसके बारे में अभी तक जानकारी हाथ नहीं लगी है. Thane Private Hospital Fire

24 संक्रमित मरीजों की मौत

अभी कुछ दिन पहले ही महाराष्ट्र में नासिक में मौजूद डॉक्टर जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन रिसाव की वजह से इलाज करवा रहे 24 मरीजों की मौत हो गई थी.

अभी यह मामला शांत नहीं हुआ था कि उसके दो दिन बाद महाराष्ट्र के पालघर ज़िले के विरार इलाके में मौजूद विजय वल्लभ कोविड अस्पताल में आग लगने से 13 मरीज़ों की मौत हो गई थी.

अस्पताल के आईसीयू में लगी आग Thane Private Hospital Fire

विजय वल्लभ कोविड अस्पताल के आईसीयू में आग लगने से 13 मरीज़ों की मौत हो गई. जबकि कुछ मरीजों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

हादसे में बचने वाले अन्य मरीजों को नजदीक के दूसरे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

हादसे के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंक्षी उद्धव ठाकरे ने अस्पताल में लगने वाली आग की घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

वहीं महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा ये बहुत दुखद घटना है, इसकी जांच होगी और दोषियों पर कार्रवाई होगी. Thane Private Hospital Fire

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

देश में पहली बार कोरोना से 3 हजार से ज्यादा की मौत, बीते 24 घंटों में 3.60 लाख नए केस