Gujarat Exclusive > राजनीति > केजरीवाल के बचाव में उतरा परिवार, कहा- क्या शिक्षा-स्वास्थ्य देना, गीता पढ़ाना आतंकवाद है?

केजरीवाल के बचाव में उतरा परिवार, कहा- क्या शिक्षा-स्वास्थ्य देना, गीता पढ़ाना आतंकवाद है?

0
256

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के द्वारा लगातार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा जा रहा है. पहले बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने अरविंद केजरीवाल को आतंकवादी बताया था और अब मोदी सरकार में मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी इसपर मुहर लगा दी है. पिछले दिनों एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, केजरीवाल एकदम मायूस चेहरा करके पूछ रहे हैं कि क्या मैं आतंकवादी हूं? इसके बहुत सबूत हैं. आपने खुद कहा था मैं अराजकवादी हूं. तो आतंकवादी और अराजकवादी में बहुत ज्यादा अंतर नहीं होता है.

बीजेपी की ओर बयान आने के बाद मामले को लेकर आम आदमी पार्टी इस मामले को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत कर चुकी है वहीं केजरीवाल का परिवार उनके बचाव में मैदान में उतर आया है. हर्षिता केजरीवाल ने पूछा कि क्या स्वास्थ्य सुविधा लोगों को मुफ्त मुहैया कराना आतंकवाद है? क्या बच्चों को शिक्षित करना आतंकवाद है? क्या बिजली और पानी व्यवस्था दुरुस्त करना आतंकवाद है?

हर्षिता ने अपने पिता अरविंद केजरीवाल के बारे में बताते हुए कहा कि, मेरे पिता हमेशा से ही समाज सेवा में लगे रहे हैं. मुझे आज भी याद है कि वो मुझे, मेरे भाई को, दादी-दादी को सुबह छह बजे उठा कर भगवद गीता सुनाते थे और हमेशा ‘इंसान का इंसान से हो भाईचारा’ गाना गाकर हमें इसके बारे में बताते थे. क्या यह आतंकवाद है? केजरीवाल को आतंकी कहे जाने पर उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल ने भी कहा कि दिल्ली की जनता बहुत समझदार है. वो लोग 11 फरवरी के दिन जवाब देगी.