Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में हर दिन होता है तीन हजार कोरोना टेस्ट, फैलाई जा रही है अफवाह

गुजरात में हर दिन होता है तीन हजार कोरोना टेस्ट, फैलाई जा रही है अफवाह

0
8987

अहमदाबाद: गुजरात में हर दिन कोरोना वायरस संक्रमण का पता लगाने के लिए तीन हजार नमूनों की जांच की जा रही है और इनमें कमी लाने की कोई योजना नहीं है. गौरतलब हो कि कुछ लोग आरोप लगा रहे थे कि टेस्टिंग में कमी कर कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी लाकर राज्य सरकार अपनी निष्फलता को छुपाने की कोशिश कर रही है. लेकिन राज्य सरकार की स्वास्थ्य विभाग ने इस आरोप को अफवाह बताते हुए इसे खारिज कर दिया.

राज्य की प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) जयंती रवि ने गांधीनगर में संवाददाताओं को बताया कि गुजरात सरकार ने फैसला किया है कि कोरोना वायरस की जांच के आंकड़े और इस संक्रमण के कारण मरने वाले लोगों की संख्या 24 घंटे में एक बार ही घोषित की जाएगी. वर्तमान में दिन में दो बार, एक बार सुबह और एक बार शाम को ये आंकड़े जारी किए जा रहे हैं. उन्होंने बताया, ‘‘कोरोना वायरस मामलों का पता लगाने के लिए हमने जांच की संख्या घटाई नहीं है.

हम गुजरात में हर दिन 3,000 नमूनों की जांच कर रहे हैं. इनमें से 2,500 नमूने राज्यभर से एकत्र किए जाते हैं जबकि 500 नमूने उन लोगों के हैं जो पहले से क्वारंटाइन में रखे गए हैं या अस्पतालों में भर्ती हैं.’’ उन्होंने बताया कि आंकड़े अब केवल शाम के वक्त ही जारी किए जाएंगे. ऐसा दोहराव से बचने के लिए किया जा रहा है. ये आंकड़े 24 घंटे में राज्यभर में की गई जांचों के संबंध में होंगे.

मुख्यमंत्री योगी UP में फंसे प्रवासी मजदूरों को वापस भेजने को तैयार, लेकिन UP वालों पर साधी चुप्पी