Gujarat Exclusive > देश-विदेश > गोवा के MLA ने कहा, गायों को मारने के लिए इंसानों की तरह बाघों को भी सजा मिले

गोवा के MLA ने कहा, गायों को मारने के लिए इंसानों की तरह बाघों को भी सजा मिले

0
268

पणजी : बाघों की हत्या के मामले में बुधवार को चर्चा की गई है जिसको लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के विधायक चर्चिल एलेमो ने कहा कि जब बाघों की हत्या करने के लिए इंसानों को सजा दी जाती है, तो गायों को खाने के लिए बाघों को भी सजा मिलनी चाहिए.

वहीं दूसरी ओर, बाघों की हत्याओं की व्यापक जांच कराने की विपक्ष की मांग के बीच गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बुधवार को कहा कि यह सुनिश्चित करने की कोशिशें चल रही हैं कि ऐसी घटनाएं भविष्य में फिर से न हों. पिछले महीने महादयी वन्यजीव अभयारण्य में पांच स्थानीय लोगों ने एक बाघिन तथा उसके तीन शावकों की हत्या कर दी थी. इसको लेकर काफी हंगामा हुआ था.

विपक्ष के नेता दिगंबर कामत ने विधानसभा सत्र के दौरान सदन के पटल पर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश करते हुए यह मुद्दा उठाया. गोवा फॉरवर्ड पार्टी के विधायक विजय सरदेसाई और निर्दलीय विधायक रोहन खोंटे समेत विपक्षी नेताओं ने केंद्रीय एजेंसियों से मांग की कि हत्याओं में अवैध शिकार करने वाले गिरोहों या खनन गिरोहों के शामिल होने की संभावना की जांच होनी चाहिए.

सावंत ने कहा, ”हमने यह सुनिश्चित करने के लिए एहतियातन कदम उठाए हैं कि ऐसी हत्याएं फिर न हो। हम मानवीय दृष्टिकोण से भी इस मामले की जांच कर रहे हैं.” उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों ने बाघों की कथित तौर पर तब हत्या की जब उन्होंने उनके पशुओं पर हमला कर दिया था. मुख्यमंत्री ने कहा कि उन किसानों को तीन से चार दिनों में मुआवजा दिया जाएगा जिनके मवेशी मारे गए है. मालूम हो कि देश में बाघों और शेरों के संरक्षण को लेकर कई मुहिम चलाई जा रही हैं और इस मुहिम के तहत इनकी हत्या करने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा की मांग की जाती रही है.