Gujarat Exclusive > देश-विदेश > आसमान में पहुंचे टमाटर के दाम, लाल इतना की आम आदमियों की पहुंच से दूर

आसमान में पहुंचे टमाटर के दाम, लाल इतना की आम आदमियों की पहुंच से दूर

0
765

कोरोना संकटकाल के बीच अब टमाटर भी अपना रंग और ज्यादा लाल करता हुआ नजर आ रहा है. बीते एक महीने में टमाटर के दाम तीन गुना ज्यादा बढ़ गए हैं. कहा जाता है कि टमाटर हर आम और खास आदमियों के घर में बनने वाले खाने के स्वाद को बढ़ता है. लेकिन टमाटर के बढ़ते दाम ने जहां लोगों के जायका को फीका कर दिया है. वहीं आम आदमियों के बजट से बाहर भी होता नजर आ रहा है.

देश के ज्यादातर राज्यों में टमाटर की कीमतें बढ़कर 70-80 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गयी हैं. टमामटर के बढ़ते दाम का जिम्मेदार केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने मौसम को बता रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस मौसम में टमाटर के खराब होने की संभावना अधिक रहती है और लोगों की मांग ज्यादा रहती है इसलिए टमाटर के दाम बढ़ रहे हैं.

मिल रही जानकारी के अनुसार गुरुग्राम, गंगटोक, सिलीगुड़ी और रायपुर में टमाटर 70 रुपये प्रति किलो के भाव बिक रहा है, जबकि गोरखपुर, कोटा और दीमापुर में 80 रुपये प्रति किलोग्राम का भाव है. मंत्रालय के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, चेन्नई के अलावा मेट्रो शहरों में टमाटर की खुदरा कीमतें 60 रुपये प्रति किलोग्राम तक बढ़ गई, जो एक महीने पहले लगभग 20 रुपये प्रति किलो था.

गौरतलब हो कि देश में सालाना 97 लाख टन टमाटर का उत्पादन होता है लेकिन खतप उससे कही ज्यादा एक आकड़ा के अनुसार देश में सालाना करीब एक कोरड़15 लाख टन टमामटर का खपत होता है. कोरोना संकटकाल के बीच जहां लोग अपनी जिंदगी को कर-कसर में गुजार रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ टमाटर के बढ़ते दाम अब आम आदमियों की पहुंच से काफी दूर होता नजर आ रहा है.

बीते 24 घंटों में दर्ज हुए कोरोना के सर्वाधिक नए मामले, 475 लोगों की मौत