Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिग्विजय सिंह के खिलाफ केस दर्ज, कहा- एक नहीं एक लाख FIR दर्ज हो जाए तो भी अफसोस नहीं

दिग्विजय सिंह के खिलाफ केस दर्ज, कहा- एक नहीं एक लाख FIR दर्ज हो जाए तो भी अफसोस नहीं

0
121

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ उनके हालिया ट्वीट के सिलसिले में भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, नर्मदापुरम और सतना में FIR दर्ज़ की गई है. कल दिग्गी ने बिहार की एक तस्वीर को खरगोन का बताकर ट्वीट कर दिया. जिसके बाद उनको आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा था. इस मामले को लेकर सीएम शिवराज ने कहा था कि वह प्रदेश को दंगों की आग में झोकने की साजिश कर रहे हैं.

भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, नर्मदापुरम और सतना में FIR दर्ज़ होने के बाद दिग्विजय सिंह ने कहा कि भाजपा मेरे खिलाफ नहीं पूरे देश के खिलाफ एजेंडा चला रही है. सांप्रदायिक उन्माद के ख़िलाफ बोलने से अगर मेरे खिलाफ एक नहीं एक लाख भी FIR दर्ज हो जाए तो मुझे अफसोस नहीं है. जो मेरा ट्वीट था उसमें भी मैंने प्रश्न ही पूछा था, वो तस्वीर खरगोन की नहीं थी इसलिए मैंने उस ट्वीट को डिलीट कर दिया.

मध्य प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग ने इस मामले को लेकर कहा कि दिग्विजय सिंह ने दो दिन पहले खरगोन की घटना पर किसी और राज्य की घटना पर ट्वीट किया था, जिसके कारण कल मध्य प्रदेश में दिन भर तनाव की स्थिति बनी रही. कल मैंने ट्विटर को लेटर लिखकर कहा है कि दिग्विजय सिंह के ट्विटर अकाउंट को ब्लॉक किया जाएं. जो लोग ट्विटर चलाते हैं, वे दिग्विजय सिंह के ट्विटर अकाउंट को ब्लॉक करने के लिए मुहिम चलाएं.

फोटो से मचा था बवाल

हालांकि विवाद बढ़ता देख दिग्विजय सिंह ने फोटो को हटा दिया. फोटो के साथ उन्होंने लिखा था. क्या खरगोन प्रशासन व पुलिस ने यह भाषण नहीं सुना? क्या इस प्रकार का भाषण जनता को धर्म के आधार पर भड़काने वाला नहीं है? यह खरगोन में एक स्थान का भाषण है और कहॉं कहॉं कपिल मिश्रा जी के भाषण हुए? क्या खरगोन प्रशासन व पुलिस को इसकी जानकारी नहीं थी?

हंसखाली रेप-मर्डर कांड: CM ममता के बयान से सियासी उफान, महिला आयोग ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण