Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भारत में कोरोना वायरस के 33 मामलों की पुष्टि, अमृतसर के दो लोगों में दिखे लक्षण

भारत में कोरोना वायरस के 33 मामलों की पुष्टि, अमृतसर के दो लोगों में दिखे लक्षण

0
695

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का दायरा बढ़ता जा रहा है. ताजा खबर के मुताबिक अब पंजाब के अमृतसर में दो लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. दोनों संदिग्ध इटली से लौटे बताए जा रहे हैं. दोनों की अमृतसर हवाई अड्डे पर जांच की गई थी. होशियारपुर के रहने वाले दोनों मरीजों के अलावा उनके परिजनों को भी आइसोलेशन में रखा गया है. इस तरह से अब भारत में 33 मामलों की पुष्टि हो चुकी है.

चीन ने खोजा कोरोना का ईलाज

उधर चीन ने दावा किया है उसने कोरोना वायरस का उपचार खोज लिया है. एक दिन पहले चीन के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के हवाले से सरकारी संवाद एजेंसी ने बताया, दवा टोसिलिजुमैब जिसका सामान्य ब्रांड नाम एक्टेरमा है, को कोविड-19 (COVID-19) के जांच एवं उपचार में शामिल किया गया है. चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज के उप महासचिव और शिक्षाविद झाउ क्वी ने कहा, टोसिलिजुमैब काफी प्रभावी साबित हुई है. शुरुआती क्लीनिकल ट्रायल में टोसिलिजुमैब का प्रयोग कोविड-19 के 20 गंभीर मामलों में किया गया और सभी रोगियों के शरीर का तापमान एक दिन के अंदर नीचे आ गया. 19 रोगियों को दो हफ्ते में अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, जबकि एक अन्य मरीज ठीक भी हो गया.

भागा कोरोना का मरीज

खबर है कि कोरोना वायरस का संदिग्ध इलाज के दौरान भाग गया है. घटना ओडिशा की है. जानकारी के मुताबिक आयरिश मूल का ये व्यक्ति भुवनेश्वर के बीजू पटनायक एयरपोर्ट पर आया, जहां चेकिंग के दौरान उसे कोरोना वायरस का संदिग्ध पाया गया. उसे एसबीसी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल रेफर किया गया. जब डॉक्टर ने अपने स्टाफ से उसे जांच के लिए कमरे में लाने को कहा तो स्टाफ ने पाया कि वो वार्ड में नहीं था. उसे जगह-जगह ढूंढा गया मगर वो कहीं नहीं मिला. आयरिश नागरिक के अस्पताल से लापता होने की खबर से अफरा-तफरी मच गई है.