Gujarat Exclusive > देश-विदेश > जमीन विवाद को लेकर राजस्थान के बाद अब उत्तर प्रदेश में पुजारी पर जानलेवा हमला

जमीन विवाद को लेकर राजस्थान के बाद अब उत्तर प्रदेश में पुजारी पर जानलेवा हमला

0
259
  • गोंडा जिला में भूमिफायों ने मंदिर के पुजारी को मारी गोली
  • पुजारी की हालत गंभीर डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर किया
  • पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ दर्ज किया मामला
  • 2 को हिरासत में लेकर पुलिस कर रही है पूछताछ

राजस्थान में मंदिर के पुजारी को जिंदा जलाने के बाद अब उत्तर प्रदेश के गोंडा जिला में जमीन विवाद को लेकर पुजारी को निशाना बनाया गया है.

मिल रही जानकारी के अनुसार गांव के भूमाफियों ने शानिवार रात मंदिर के पुजारी को देर रात गोली मार दिया. पुजारी को पहले जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया.

लेकिन हालत गंभीर होने की वजह से डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया.

उत्तर प्रदेश में पुजारी पर जानलेवा हमला

मिल रही जानकारी के अनुसार गोंडा जिला के इटियाथोक थाना क्षेत्र के तिर्रेमनोरमा इलाके में श्री राम जानकी मंदिर मौजूद है. इस मंदिर में पिछले दो सालों से पुजारी के रूप में अतुल बाबा उर्फ सम्राट दास काम करते हैं.

शनिवार देर रात लगभग दो बजे भूमाफियों ने मंदिर परिसर में ही गोली मार दी गई. गोली लगने से पुजारी अतुल बाबा उर्फ सम्राट दास की हालत गंभीर बताई जा रही है.

यह भी पढ़ें: आंध्र प्रदेश CM ने CJI को लिखा खत, सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जज पर लगाया गंभीर आरोप

2 को हिरासत में लेकर पुलिस कर रही है पूछताछ

महंत को गोली मारे जाने की जानकारी मिलने के बाद पूरे इलाके में हंगामा मच गया. मामले की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर कई बड़े अधिकारी पहुंच गए.

इस हमले के बाद पुलिस की टीम को मौके पर तैनात कर दिया गया है. इटियाथोक थाना कोतवाली के कोतवाल संदीप कुमार ने जानकारी देते हुए कहा कि इस हमले के पीछे मंदिर की जमीन का विवाद सामने आ रहा है.

पुजारी की शिकायत के आधार पर चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. पुलिस त्वरित कार्रवाई करते हुए 2 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

जमीन विवाद को लेकर राजस्थान में पुजारी की हत्या

बीते दिनों राजस्थान में भी इसी तरीका का मामला सामने आया था. यह पूरा घटनाक्रम करौली के सपोटरा थाना इलाके की ग्राम पंचायत बुकना का था.

यहां मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करते थे और मंदिर माफी की जमीन पर भी उन्हीं का कब्जा था. लेकिन इस जमीन को लेकर गांव के दबंग कैलाश मीणा की नजर थी.

इसी जमीन पर कब्जा करने के लिए आरोपी कैलाश मीणा ने पुजारी पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. इसके बाद पुजारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

राजस्थान में पुजारी की हत्या पर ग्रामिणों का हंगामा, 50 लाख मुआवजे की मांग