Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > UPSC ने सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा को टाला, कहा- मौजूदा स्थिति में परीक्षा संभव नहीं

UPSC ने सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा को टाला, कहा- मौजूदा स्थिति में परीक्षा संभव नहीं

0
432

कोरोना संकट के कारण देश में तालाबंदी की स्थिति है. व्यापार से लेकर शैक्षणिक संस्थान तक बंद हैं. परीक्षाएं रद्द हो रही हैं. इसी कड़ी में संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने आगामी सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा टालने का फैसला किया है. यूपीएससी ने कहा है कि 31 मई को होने वाली सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा को आगे के लिए टाल दिया गया है.

कोविड-19 के कारण देशव्यापी तीसरे चरण के तालाबंदी के बाद स्थिति की समीक्षा के लिए आयोग की सोमवार को बैठक हुई जिसमें यह निर्णय किया गया. यूपीएससी ने बताया, ‘प्रतिबंधों को बढ़ाने का संज्ञान लेते हुए आयोग ने निर्णय किया है कि वर्तमान में परीक्षाएं आयोजित करना और साक्षात्कार लेना संभव नहीं होगा.’

आयोग भारतीय वन सेवा के लिए भी स्क्रीनिंग परीक्षा आयोजित कराता है. आयोग ने समीक्षा बैठक में इसे भी स्थगित करने का फैसला लिया है. आयोग ने कहा है कि वो 20 मई 2020 को फिर से पूरी स्थिति की समीक्षा करेगा और उसके बाद यूपीएससी की परीक्षा की नई तिथि वेबसाइट पर नोटिफाई करेगा.

आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा, 2019 के लिए शेष उम्मीदवारों के लिए व्यक्तित्व परीक्षण, भारतीय आर्थिक सेवा / भारतीय सांख्यिकीय सेवा परीक्षा, 2020 के लिए अधिसूचना, संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा, 2020 के लिए अधिसूचना, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों परीक्षा के लिए अधिसूचना, 2020 और एनडीए और नौसेना अकादमी परीक्षा को भी स्थगित कर दिया है.

एक्शन में योगी सरकार, प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए 10 हजार बसें लगाने की तैयारी