Gujarat Exclusive > देश-विदेश > श्रीनगर के उर्दू अखबार ने खबर के साथ पाठकों तक पहुंचाया फ्री मास्क

श्रीनगर के उर्दू अखबार ने खबर के साथ पाठकों तक पहुंचाया फ्री मास्क

0
701

कोरोना काल में मास्क सबसे बड़ा हथियार साबित हो रहा है. जब तक वैक्सीन नहीं बन जाती तब तक हैंड वॉश के अलावा मास्क इस महामारी को रोकने के सबसे कारगर उपाय माने जा रहे हैं. मास्क की अहमियत को लेकर जम्मू-कश्मीर के एक अखबार ने अनोखी पहल की. प्रदेश के लोगों को उस वक्त हैरान रह गए जब उन्हें सुबह की अखबार के साथ मुफ्त में मास्क मिला.

पूरा मामला श्रीनगर के एक स्थानीय उर्दू अखबार से जुड़ा है. कोरोना वायरस के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए उर्दू के एक स्थानीय अखबार ने अनोखा तरीका अपनाया है. उसने पाठकों को मुफ्त मास्क देकर सबको हैरान कर दिया. सुबह-सुबह जब लोगों ने अखबार को खोला तो उन्हें मास्क अटैच मिला. इसी के साथ पाठकों से मास्क पहनने की अपील की गई.

पूर्व मुख्यमंत्री उमर ने तारीफ की

अखबार के माध्यम से पाठकों को मास्क मुफ्त पहुंचाने के साथ दाहिनी तरफ उर्दू में लिखा हुआ मिला, “मास्क का इस्तेमाल जरूरी है.” जब सोशल मीडिया पर उर्दू अखबार की पहल के बारे में शेयर किया गया तो लोगों ने उसका अंदाज काफी पसंद आया. इस पहल से राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला काफी प्रभावित नजर आए. उन्होंने अखबार की फोटो शेयर करते हुए इस कदम की सराहना की. उमर अब्दुल्ला के ट्वीट का जवाब देते हुए एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, “ये कोई नई पहल नहीं है बल्कि दुबई के सारे अखबार हैंड सेनेटाइजर अटैच कर वितरण कर रहे हैं.”

 

जागरूकता संदेश जरूरी है

श्रीनगर से प्रकाशित होने वाले इस अखबार का नाम रोशनी है. जब इस बारे में अखबार के संपादक जहरा शोरा से पूछा गया तो उन्होंने कहा, “जनता के बीच जागरुकता संदेश पहुंचाना जरूरी था. लिहाजा मास्क पहनने को प्रेरित करने के लिए यही एक अच्छा तरीका लगा.”

दिल्ली में सीरो सर्वे के नतीजे राहत भरे, अब हर महीने कराने की तैयारी