Gujarat Exclusive > देश-विदेश > अमेरिकी चुनाव की पहली बहस: ट्रंप ने लगाया भारत पर आरोप, बाइडन ने कहा- ‘शट-अप’

अमेरिकी चुनाव की पहली बहस: ट्रंप ने लगाया भारत पर आरोप, बाइडन ने कहा- ‘शट-अप’

0
405

अमेरिकी प्रेसिडेंशियल डिबेट (US Presidential Debate) में डेमोक्रेटिक कैंडिडेट जो बाइडेन (Joe Biden) और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump)  के बीच तीखी बहस देखने को मिली. बहस (US Presidential Debate) में अपने संबोधन के दौरान कोरोना वायरस से अमेरिका में हुई मौतों के मुद्दे पर राष्ट्रपति ट्रंप ने बोलते हुए चीन और रूस के साथ भारत पर भी मौत का सही आंकड़ा नहीं देने का आरोप लगा दिया.

अमेरिका में पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट (US Presidential Debate) के मॉडरेटर क्रिस वैलेस ने सबसे पहले ट्रंप से सवाल किए. अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले ट्रंप ने सुप्रीम कोर्ट में कंजरवेटिव विचाराधारा की जज की नियुक्ति का ऐलान किया है. इससे ट्रंप को हेल्थकेयर को खत्म करने में मदद मिलेगी. इससे जुड़े सवाल पर ट्रंप ने कहा,

‘मैं आपको सीधी बात बताता हूं, हमने चुनाव जीता है. चुनाव के नतीजे होते हैं. हमारे पास सीनेट है.

सुप्रीम कोर्ट में एमी कोनी बैरेट के चुनाव के फैसले का बचाव करते हुए ट्रंप ने कहा, वो हर तरीके से बेहतरीन हैं. मुझे लगता है कि वो अच्छा करेंगीं.

बहस के 18 मिनट के अंदर तू-तू, मैं-मैं

बहस (US Presidential Debate) के 18 मिनट के भीतर ही बाइडन ट्रंप की ओर मुड़े और चिल्लाए, क्या तुम चुप होगे. ट्रंप ने बाइडन को नजरअंदाज करते हुए बात करना जारी रखा. ट्रंप ने कहा, जो लोग जानते हैं कि 47 सालों में तुमने कुछ नहीं किया. दोनों ने एक-दूसरे को ‘शट-अप’ कहने के बाद डिबेट के होस्ट क्रिस वॉलेस को बीच-बचाव करना पड़ा.

यह भी पढ़ें: 1 अक्टूबर से बदल जाएंगे E-Challan के नियम, सड़क पर पेपर जांच करने से मिलेगी निजात

कई मुद्दों पर बहस (US Presidential Debate) के दौरान ट्रंप और बाइडन एक-दूसरे को टोकते रहे और ये इतना बढ़ गया कि क्रिस वॉलेस ने दोनों से कहा-‘स्टॉप टॉकिंग’. यानी चुप हो जाइए. बहस के दौरान एक बार जब बाइडन ने ट्रंप को बीच में टोका तो होस्ट वॉलेस ने कहा, ”उन्हें अपनी बात पूरी कर लेने दीजिए.” इस पर ट्रंप ने तंज़ कसा, ”बाइडन को ये आता ही नहीं है.” इतना ही नहीं, ट्रंप और बाइडन ने डिबेट के दौरान कई बार एक-दूसरे पर कटाक्ष किया और माखौल उड़ाया.

डिबेट (US Presidential Debate) के दौरान एक बार ट्रंप ने बाइडन से कहा, ”आप मेरे सामने ख़ुद को स्मार्ट मत कहिए. आप मेरे सामने स्मार्ट शब्द का इस्तेमाल मत करिए.”

ट्रंप ने भारत पर लगाए आरोप

ट्रंप अमेरिका में लॉकडाउन लगाने और लाखों लोगों की मौत पर अपनी नीतियों का बचाव करते हुए कहा कि अगर वो वक्त पर लॉकडाउन नहीं लगाते तो इससे भी ज्यादा लोगों की मौत होती. ट्रंप ने अपने भाषण (US Presidential Debate)में कहा,

‘अगर हमने देश को खोले रखा होता तो बस दो लाख ही नहीं, इससे ज्यादा लोगों की जान गई होती. ये सब चीन की गलती है. और जब आप आंकड़ों की बात करते हैं तो आपको क्या पता चीन में कितने लोगों की मौत हुई है. रूस में कितने लोग मरे हैं या फिर भारत में कितने लोग मरे हैं. ये लोग सही आंकड़े नहीं देते हैं.’

ट्रंप ने जो बाइडेन पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘जब मैंने लॉकडाउन लगाया तो आपने मुझे रेसिस्ट, नस्लवादी बताया था. आपको लगा था कि ये बहुत बुरा फैसला था, लेकिन डॉक्टर फाउची ने खुद कहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप ने लाखों जिंदगियां बचाई हैं.’

बाइडन ने ली चुटकी

दोनों नेताओं ने एक-दूसरे पर मास्क से लेकर वैक्सीन और फ़िज़िकल डिस्टेंसिंग जैसे मुद्दों पर निशाना साधा.

बाइडन ने ट्रंप पर मास्क पहनने को लेकर गंभीरता न बरतने का आरोप लगाया तो ट्रंप ने बाइडन का मज़ाक उड़ाते हुए कहा, “बाइडन 200 फ़ीट की दूरी पर रहते हैं तो भी बड़ा सा मास्क पहनकर आ जाते हैं.” होस्ट क्रिस वैलेस ने पूछा कि ट्रंप महामारी के दौरान वो भीड़-भाड़ वाली चुनावी रैलियाँ क्यों कर रहे थे? इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, “अगर बाइडन इतनी भीड़ जुटा पाते तो भी ऐसा ही करते.”

बाइडन ने चुटकी लेते हुए ट्रंप से कहा,

“आप अपनी बाँह में ब्लीच का इंजेक्शन लगा लीजिए, शायद इससे कोरोना ठीक हो जाए.”

इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, “मैंने ये बात तंज़ में कही थी और आप यह जानते हैं.” ट्रंप ने कहा कि अगर बाइडन उनकी जगह होते तो अमरीका में कोविड-19 से दो करोड़ लोगों की मौत होती. वहीं, बाइडन ने कहा कि सबको पता है कि ट्रंप झूठे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें