Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना संकट के कारण अमेरिका में एक साल के लिए स्कूल-कॉलेज बंद करने के आदेश

कोरोना संकट के कारण अमेरिका में एक साल के लिए स्कूल-कॉलेज बंद करने के आदेश

0
2178

वैसे तो पूरी दुनिया कोरोना महामारी से त्रास्त है लेकिन अमेरिका इस बीमारी से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है. देश में जारी कोरोना संकट के बीच अमेरिका के पूरे एक एकेडमिक सेशन के लिए सरकार ने स्कूल कॉलेज बंद करने का आदेश दिया है. ये फैसला वाशिंगटन डीसी समेत देश के कम से कम 37 राज्यों में लागू किया गया है.

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, संयुक्त राज्य अमेरिका के अधिकांश गर्वनर ने ये आदेश दिया है कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने में राज्यव्यापी स्कूल बंदी मददगार साबित होगी. 37 राज्यों में ये नियम लागू करने की सिफारिश की गई है.

वहीं अमेरिका के कई राज्य कह रहे हैं कि वो सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए स्कूल खोल सकते हैं. लेकिन जिस तरह के हालात हैं, उससे अंदाजा लगा सकते हैं कि अमेरिका में इस एकेडमिक सेशन में स्प्र‍िंग सीजन में शायद ही स्टूडेंट स्कूल जाएंगे. अमेरिका की संघीय सरकार ने भी अमेरिका को कई चरणों में फिर से खोलने के लिए नए गाइडलाइन जारी किए हैं लेकिन स्कूल के खुलने पर ये प्रतिबंध जारी रहेगा.

मालूम हो कि फ्लोरिडा, टेक्सास के साथ साथ वॉशिंगटन डीसी समेत कई राज्यों ने इसके आदेश जारी किए हैं कि छात्र घर पर रहकर ही पढ़ाई करें. फ्लोरिडा राज्य ने कहा कि संघीय सरकार का ये निर्णय काफी सराहनीय है.

स्कूल बंद रखने का फैसला 37 राज्यों में लागू हो सकता है. इससे अमेरिका के 3 करोड़ स्कूली छात्र प्रभावित होंगे. इसके अलावा एरिजोना, हावर्ड और बोस्टन यूनिवर्सिटी भी बंद रहेंगी. कई छात्र-छात्राओं ने सरकार के इस फैसले को सराहा है. बोस्टन यूनिवर्सिटी ने तो स्पष्ट कहा है कि 2020 में छात्रों को बुलाना उनकी सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है.

कोरोना से जंग : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की पत्नी भी आईं आगे, शेल्टर होम्स के लिए बना रही हैं मास्क