Gujarat Exclusive > राजनीति > उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र का आगाज, सपा विधायकों ने किया हंगामा

उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र का आगाज, सपा विधायकों ने किया हंगामा

0
431

कोरोना संकटकाल के बीच आज से उत्तर प्रदेश का तीन दिवसीय मानसून सत्र का आगाज हो रहा है. विधानसभा में वपक्ष महंगाई- बेरोजगारी और कोरोना के बढ़ते कहर के मामले को लेकर घेरने की तैयारी कर रही है.

इस बीच राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर योगी सरकार पर जमकर हमला बोला है.

उन्होंने कहा कि ठोको नीति आंतरिक कलह का कारण बन गई है.

शोकसभा के बाद स्थगित हो जाएगी कार्यवाही

मिल रही जानकारी के अनुसार सत्र के पहले दिन की कार्यवाही शोकसभा के बाद स्थगित हो जाएगी.

विधानसभा में मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन, प्रदेश की मंत्री कमल रानी वरुण और चेतन सिंह चौहान के साथ ही साथ विधायकों वीरेंद्र सिंह और पारस नाथ यादव को श्रद्धांजलि दी जाएगी.

यह भी पढ़ें: UP की हालिया घटनाओं पर मायावती का तंज, लीपापोती से खराब हुए हालात

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर स्वास्थ्य मंत्री का किया घेराव

सत्र के पहले दिन समाजवादी पार्टी के विधायकों ने विधानसभा में स्थित चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के पास जमा होकर जमकर योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की इतना ही नहीं इन विधायकों ने राज्य में कोरोना के बढ़ते कहर को लेकर स्वाथ्य मंत्री का घेराव भी किया.

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर बोला हमला

विधानसभा का तीन दिवसीय सत्र शुरू होने पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर योगी सरकार पर हमला बोला.

उन्होंने ट्वीट कर लिखा- “उप्र विधानसभा का ये सत्र कई मायनों में ऐतिहासिक होगा. सरकार को कोरोना, बेकारी-बेरोज़गारी, जातीय उत्पीड़न व बदहाल क़ानून-व्यवस्था के मोर्चे पर विपक्ष के साथ अपने लोगों के सवालों का भी जवाब देना होगा.”

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में हालिया दिनों में होने वाले हत्या, बलात्कार, जातीय उत्पीड़न के मामले के साथ ही साथ कानून व्यवस्था की खस्ताहाली के कई मामले सामने आ चुके हैं.

इन मामलों को लेकर सपा बसपा के साथ ही साथ कांग्रेस भी योगी सरकार पर हमलावर रही है. ऐसे में माना जा रहा है कि विपक्ष इन मुद्दों को लेकर विधानसभा में योगी सरकार का घेराव करेगी.

जिससे उम्मीद जताई जा रही है कि विधानसभा का ये सत्र काफी हंगामेदार होने वाला है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सुशांत केस CBI से जांच कराने पर शरद पवार का तंज, कहा- दाभोलकर जैसा हाल न हो