Gujarat Exclusive > गुजरात > वडोदरा गैंगरेप मामला, FSL की रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

वडोदरा गैंगरेप मामला, FSL की रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

0
409

वडोदरा: गुजरात की ‘संस्कारी नगरी’ वडोदरा को कलंकित करने वाली गैंगरेप की घटना की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. पुलिस अभी इस बात की जांच कर रही है कि पीड़िता ने आत्महत्या की या उसकी हत्या की गई. हालांकि अब पुलिस एफएसएल रिपोर्ट में चौंकाने वाले खुलासे को लेकर असमंजस में आ गई है. गांधीनगर एफएसएल की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि पीड़िता के साथ सामूहिक दुष्कर्म नहीं हुआ था. फिलहाल एफएलएल रिपोर्ट को रेलवे पुलिस को सौंप दिया गया है.

एफएसएल की रिपोर्ट में बलात्कार नहीं होने की जानकारी सामने आई है. खुलासे के बाद पुलिस इस बात पर भी विचार कर रही है कि अगर बलात्कार नहीं किया गया तो लड़की ने आत्महत्या क्यों की. पुलिस इतने दिनों के बाद भी अपराधियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है. बीते दिनों इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया था.

इससे पहले केस की जांच के लिए गठित एसआईटी में कुल 6 पुलिस अधिकारियों को शामिल किया गया था. एसआईटी की अध्यक्षता वडोदरा रेलवे पुलिस के एसपी परीक्षिता राठौर कर रही है. इसके अलावा एसआईटी में डीसीपी क्राइम जयदीप सिंह जाडेजा, रेलवे डीवायएसपी बीएस जाधव, सूरत रेलवे पीआई केएम चौधरी और वलसाड रेलवे पीएसआई जेबी व्यास को शामिल किया गया है.

बीते दिनों पीड़िता का एक व्हाट्सएप मैसेज का स्क्रीनशॉट वायरल हुआ था. जिसमें लड़की ने संजीवभाई नामक एक आदमी को रात करीब 11.30 बजे ‘गुजरात क्वीन’ ट्रेन के वॉशरूम से व्हाट्सएप पर एक मैसेज भेजा था. जिसमें उसने लिखा था कि “मुझे अपहरण कर लिया गया है और मुझे मार दिया जाएगा.” नया खुलासा सामने आने के बाद पुलिस उस दिशा में पड़ताल शुरू कर दी थी.

मौसम विभाग का पूर्वानुमान, गुजरात में 9 दिसंबर के बाद पड़ सकती है कड़ाके की ठंड