Gujarat Exclusive > गुजरात > विजय रूपाणी की नाराजगी पर पाटिल का बड़ा बयान, जिम्मेदारियां बदलना इसे…

विजय रूपाणी की नाराजगी पर पाटिल का बड़ा बयान, जिम्मेदारियां बदलना इसे…

0
306

गांधीनगर: गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से नाराजगी की चर्चा के बीच भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ने बड़ा बयान दिया है. पाटिल ने कहा कि भाजपा में कोई नाराजगी नहीं है और आज के पीएम मोदी के नमो एप से पेज कमेटी के सदस्यों के साथ चर्चा में विजयभाई रूपाणी भी शामिल हुए. पाटिल ने कहा कि फिलहाल कोई नाराज नहीं है और पार्टी में जिम्मेदारियां बदलती रहती है. इसलिए इसे नाराजगी नहीं कहा जाना चाहिए.

पाटिल ने कहा कि पीएम मोदी ने नमो एप से पेज कमेटी के सदस्यों से चर्चा की, कार्यक्रम में मोदी ने राज्य की 8 पेज की समितियों के सदस्यों से बातचीत की. उन्होंने पेज कमेटी के सदस्यों से कुपोषण पर काम करने की पहल करने का अनुरोध किया. पीएम मोदी ने जो सुझाव दिया है हम जल्द कुपोषण के खात्मे को लेकर काम शुरू करेंगे.

राजकोट में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के कार्यक्रम के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता नहीं दिया गया था. इतना ही नहीं निमंत्रण पत्रिका से भी रूपाणी का नाम गायब था. जिसके बाद से विजय रूपाणी की नाराजगी की चर्चा तेज हो गई है.

राजकोट में लक्ष्मीनगर अंडर ब्रिज का उद्घाटन मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने सोमवार को किया था. लक्ष्मीनगर अंडर ब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम के निमंत्रण पत्र में पूर्व मुख्यमंत्री और राजकोट पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के विधायक विजयभाई रूपाणी का नाम नहीं था. विजय रूपाणी भले ही मुख्यमंत्री नहीं हैं, फिर भी वे राजकोट पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र के विधायक हैं.

लक्ष्मीनगर अंडर ब्रिज के उद्घाटन के निमंत्रण पत्रिका पर विजय रूपानी को छोड़कर राजकोट के सभी विधायकों के नाम थे, जिसके बाद विवाद शुरू हो गया था कि पार्टी ने रूपाणी का नाम जानबूझकर हटा दिया है. पत्रिका में रूपाणी से कई गुना ज्यादा जूनियर विधायकों के नाम लिखा गया था.

अहमदाबाद: 3 महीने तक प्रेमिका को घर में रखने के बाद युवक ने किया शादी से इंकार