Gujarat Exclusive > देश-विदेश > पुलिस की गिरफ्त से अब भी दूर विकास दुबे, खबर देने वाले को मिलेगा 5 लाख का इनाम

पुलिस की गिरफ्त से अब भी दूर विकास दुबे, खबर देने वाले को मिलेगा 5 लाख का इनाम

0
1223

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिला के बिकरू गांव में दिल दहला देने वाली पुलिस हत्याकांड का आरोपी विकास दुबे अब भी पुलिस की पकड़ से दूर है. पुलिस विकास को पकड़ने के लिए अब पांच लाख का इनाम घोषित किया है. पुलिस लगातार सर्च अभियान चला रही है और ओरोपी को पकड़ने के लिए कई जगहों पर छापेमारी कर रही है. इससे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे की खबर देने वाले को ढाई लाख रुपया देने का ऐलान किया था जिसे अब बढ़ा दिया गया है.

उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े आरोपियों की लिस्ट में शामिल होने वाला कुख्यात अपराधी विकास दुबे 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के छह दिन बाद भी पुलिस की पकड़ से दूर है. गैंगस्टर विकास की तलाश में 40 थानों की पुलिस लगी हुई हैं. वहीं दूसरी तरफ और एसटीएफ भी लखनऊ, दिल्ली, राजस्थान और नेपाल सीमा पर छापेमारी कर रही है. बावजूद इसके पुलिस के हाथ हिस्ट्रीशीटर दुबे अब तक नहीं लगा. पुलिस विकास को अपनी गिरफ्त में लेने के लिए कई शहरों में पोस्टर लगा चुकी है. बावजूद इसके विकास अब भी फरार चल रहा है.

सबसे पहले विकास दुबे पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था, जिसे एक लाख रुपया किया गया था. आईजी ने इनाम को ढाई लाख रुपये करने के लिए डीजीपी को खत लिखा था. डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने आईजी के पत्र पर सहमति जताते हुए विकास दुबे पर ढाई लाख रुपये का ईनाम घोषित किया है. विकास दुबे के बारे में कोई सूचना देता है तो उसे ईनाम दिया जाएगा. साथ ही उसका नाम और पता गुप्त रखा जाएगा. लेकिन अब इस राशि को बढ़ाकर पांच लाख कर दिया गया है.

फरीदाबाद की होटल में ठहरा था विकास

फरीदाबाद नेशनल हाईवे पर मौजूद ओयो होटल में लगे सीसीटीवी में विकास दुबे की तस्वीर कैद हुई है. उसके साथ उसके दो अन्य सहयोगी भी साथ में यहां रुके हुए थे. माना जा रहा है कि विकास फरीदाबाद में रहने वाले अपने एक रिश्तेदार की मदद से दिल्ली की कोर्ट में समर्पण करने की तैयारी में था. होटल में विकास दुबे के होने की जानकारी हाथ लगने के बाद एसटीएफ और हरियाणा पुलिस विकास को पकड़ने का प्लान बना ही रही थी कि वह फरार हो गया. जिसके बाद हरियाणा और यूपी सीमा पर नाकेबंदी बढ़ा दी गई है.

फरीदाबाद की होटल में छिपा था विकास दुबे, पुलिस के पहुंचने से पहले हुआ फरार