Gujarat Exclusive > यूथ > ड्रग्स मामले में बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबरॉय के घर पर पुलिस की रेड

ड्रग्स मामले में बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबरॉय के घर पर पुलिस की रेड

0
373

बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) के घर पर बेंगलुरु सेंट्रल क्राइम ब्रांच (CCB) की टीम ने छापेमारी की है. यह छापेमारी आदित्य अल्वा के सिलसिले में की गई है जो कि विवेक (Vivek Oberoi) की पत्नी के भाई हैं. अल्वा बेंगलुरु ड्रग केस में आरोपी हैं. पुलिस ने उनकी तलाश में विवेक (Vivek Oberoi) के मुंबई आवास पर रेड मारी है.

पुलिस के मुताबिक, आदित्य अल्वा फरार है. विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) उनके रिश्तेदार हैं और जानकारी मिली है कि अल्वा उनके घर में छुपा है. इसी सिलसिले में यह छापेमारी की गई. इसी के लिए कोर्ट से वॉरेंट लिया गया और क्राइम ब्रांच की टीम बेंगलुरु से मुंबई में उनके घर गई.

यह भी पढ़ें: बिहारी बाबू के बेटे लव सिन्हा की राजनीति में एंट्री, कांग्रेस ने बांकीपुर सीट से उतारा

ढाई घंटे चली छानबीन

2.5 घंटों तक छानबीन करने के बाद बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच यानी सीसीबी विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) के जुहू स्थित घर से चली गई है. यहां सीसीबी की टीम आदित्या अलवा को ढूंढने आई थी. सीसीबी की टीम में दो इंस्पेक्टर और एक महिला अधिकारी शामिल थीं. विवेक के घर पर पुलिसकर्मी दोपहर 1 बजे के करीब पहुंचे थे.

ओबेरॉय (Vivek Oberoi) परिवार इस समय जुहू में ही दूसरी लोकेशन में रह रहा है क्योंकि उनके ओरिजिनल बंगले की इस समय मरम्मत चल रही है. छानबीन के दौरान पुलिस ने ओबेरॉय परिवार से भी आदित्य अलवा को लेकर पूछताछ की.

पूर्व मंत्री के बेटे हैं अल्वा

मालूम हो कि आदित्य अल्वा कर्नाटक के पूर्व मंत्री जीवराज अल्वा के बेटे हैं. उनपर कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री के सिंगर्स और एक्टर्स को कथित रूप से ड्रग्स सप्लाई करने का इल्जाम है.

मालूम हो कि ड्रग केस में कई बड़े नाम सामने आए थे. कुछ पेडलर्स भी गिरफ्तार किए गए थे. गिरफ्तार आरोपी ने आदित्य अल्वा का नाम बताया था. उस वक्त हेब्बल के नजदीक स्थ‍ित अल्वा के घर ‘हाउस ऑफ लाइव्स’ की तलाशी ली गई थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें